Advertisement

रामभरोसे चल रहा यह एयरपोर्ट, न स्कैनिंग होती है और न ही कोई चेकिंग

1:42 pm 16 Jan, 2018

Advertisement

दुनिया रहस्यों से भरी है, लेकिन कभी-कभी रहस्य अविश्वसनीय लगते हैं। हम सभी जानते हैं कि किसी भी हवाई अड्डा पर कितने तामझाम से गुजरना पड़ता है। कड़ी सुरक्षा जांच के अलावा और भी कई तरह के वाकयात होते हैं। हालांकि, दुनिया में हर कहीं ऐसा नहीं होता। आज हम आपको एक ऐसे एयरपोर्ट के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां लोग फ्लाइट्स में बसों की तरह सवार होते हैं और निकल पड़ते हैं। जी हां! दक्षिण सुडान के जुबा एयरपोर्ट पर लोग इसी तरह की सुविधा पाते हैं।

ये रहा एयरपोर्ट और यात्रियों का समूह!

इस अजीब एयरपोर्ट पर कोई सुरक्षा स्कैनिंग नहीं होती है और न ही खाने-पीने तथा शौचालय की व्यवस्था है। लोग घंटों फ्लाइट का इंतज़ार करते हैं और सुविधा के नाम पर कुर्सी भी नदारद ही है। लोग भूखे पेट टेंट में धूप सेंकते हुए जहाज की बाट जोहते रहते हैं। सुरक्षा की स्थिति ऐसी है कि लोग आसानी से हथियारों के साथ यात्रा कर सकते हैं।

गौरतलब है कि साउथ सुडान में युद्ध जारी है, लिहाजा यूएन के जहाज एमरजेंसी के समान के साथ इसी एयरपोर्ट से निकलते हैं। जुबा एयरपोर्ट पर तीन टर्मिनल हैं, जबकि उपयोग में सिर्फ एक ही है। 2011 में साउथ सुडान की आजादी के बाद सरकार ने कांच स्टील और कंक्रीट की बिल्डिंग से युक्त नया एयरपोर्ट बनाने पर विचार किया, लेकिन फंड की कमी के कारण काम को रोक दिया गया था।

जुबा एयरपोर्ट की स्थिति बहुत ही बदतर है, जो तस्वीर से समझना मुमकिन नहीं है। सरकार के लाचारी के चलते यात्रियों को ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है।

Advertisement


  • Advertisement