हवाई जहाज सफेद रंग के ही क्यों होते हैं? वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

3:54 pm 16 Jun, 2018

किसी समय राइट ब्रदर्स नाम के वैज्ञानिकों ने अपनी कल्पनाओं की उड़ान को हवाई जहाज की शक्ल देकर इतिहास का सबसे बेहतरीन आविष्कार किया था। आज यही एरोप्लेन आधुनिक युग में यातायात के सबसे कामयाब साधनों में से एक बन चुके हैं। महानगरों के साथ साथ छोटे शहरों में भी हवाई सफर का क्रेज दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। इस देश में जहां कुछ लोगों के लिए अभी भी प्लेन में सफर करना विलासिता का दूसरा नाम है, तो कुछ के लिए अब ये बुनियादी जरूरत बन गई है।

आप अभी तक प्लेन में सफर करने का मजा नहीं उठा पाए हैं तो आपके मन में भी प्लेन को लेकर ढेरों सवाल होंगे। ऐसे में क्या कभी आपने सोचा है कि आखिर प्लेन में सफेद रंग क्यों होता है? शायद आपने इस बात पर कभी ध्यान नहीं दिया होगा। लेकिन इसके पीछे कई वैज्ञानिक और आर्थिक कारण छिपे हैं। हम आपको बताते है कि आखिर प्लेन पर सफेद रंग किए जाने के पीछे क्या वजह है?

प्लेन को गर्मी से बचाता है सफेद रंग

गर्मी से प्लेन का बचाव करने के लिए उसपर सफेद रंग की कोटिंग की जाती है। दरअसल, रनवे से लेकर उड़ान भरने तक प्लेन सूरज की किरणों में ही रहता है। सूरज की इंफ्रारेड किरणों से बचाने के लिए प्लेन पर सफेद रंग किया जाता है, ताकि प्लेन की बॉडी गर्मी सहन कर सके।

 

 

सफेद रंग पर आसानी से नजर आता है डेंट

सफेद रंग प्लेन के निरीक्षण में मददगार साबित होता है। अगर उड़ान के दौरान प्लेन पर किसी भी तरह का डेंट लग जाए तो सफेद रंग होने के कारण बड़ी आसानी से उसका पता लगाया जा सकता है। अगर प्लेन पर कोई गाढ़ा रंग किया जाएगा तो उसपर लगे किसी भी तरह के क्रैक या डेंट को पता लगाना मुश्किल हो जाएगा, यही वजह है कि प्लेन पर सफेद रंग लगाया जाता है।

 

 

किफायती होता है सफेद रंग




हवाई जहाज पर सफेद रंग करने का एक और महत्वपूर्ण कारण है पैसों की बचत। अगर प्लेन पर सफेद की जगह कोई और रंग किया जाता है तो उसपर करोड़ों रुपए का खर्च आता है, जबकि सफेद रंग के लिए काफी कम कीमत लगती है। जाहिर है, ऐसे में कंपनियां रंगो में सबसे पहली प्राथमिकता सफेद रंग को ही देती हैं।

 

सफेद रंग की विजीबिलिटी

अन्य रंगों की तुलना में सफेद रंग की विजीबिलिटी काफी अधिक होती है। आसमान में सफेद रंग को आसानी से देखा जा सकता है। इससे दुर्घटना होने की संभावना काफी हद तक घट जाती है।

 

जहाज की रिसेल वैल्यू बढ़ा देता है सफेद रंग

दुनियाभर में कई ऐसी कंपनियां है जो जहाजों की खरीद फरोख्त करती रहती हैं। ऐसे में सफेद रंग के प्लेन पर किसी भी कंपनी का लोगो या नाम लगाना ज्यादा आसान होता है, जिसके चलते जहाज की रिसेल वैल्यू बढ़ जाती है।

 

सफेद रंग का वजन

दूसरे रंगों की तुलना में सफेद रंग का वजन काफी कम होता है। इसलिए जब प्लेन को रंगा जाता है तो अन्य रंगों के बजाय कंपनियां हवाई जहाज पर सफेद रंग ही लगातीं हैं। यदि प्लेन पर सफेद के अलावा कोई और रंग लगाया जाए तो प्लेन का भार काफी बढ़ जाएगा।