क्या आप जानते हैं McDonald’s में c हमेशा छोटा क्यों होता है?

1:25 pm 15 Apr, 2018

मैकडोनल्ड एक ऐसा नाम जिससे शायद ही कोई अनजान होगा। बच्चा-बच्चा मैकडोनल्ड (McDonald’s) के बारे में जानता है, क्योंकि यहां उनका फेवरेट बर्गर और फ्रेंच फ्राइस जो मिलते हैं। आजकल शहरों में पैरेंट्स बच्चों की बर्थडे पार्टी भी मैकडोनल्ड में देना ही पसंद करते हैं।

 

 

आप भी अपने दोस्तों व परिवार के साथ कई बार मौकडोनल्ड गए होंगे, लेकिन क्या कभी आपने उसके नाम पर गौर किया है? शायद नहीं। तो अब देख लीजिए McDonald’s में M और D कैपिटल में लिखे हैं लेकिन बीच का c हमेशा स्मॉल लेटर क्यों होता है।

यही नहीं, मशूहर शराब ब्रांड McDowell और मशहूर क्रिकेटर McGrath के नाम के साथ भी कुछ ऐसा ही है। तो कैपिलट लेटर के बीच c हमेशा छोटा होता है और उसमें स्पेस भी नहीं होता।

 




 

दरअसल, c को छोटा लिखने और स्पेस न देने के पीछे वजह यह है कि इस शब्दावली में मैक (MAC) का मतलब होता है son Of यानी उसका बेटा.  मैकडोनल्ड का Mc मैक (MAC) का ही शॉर्ट फॉर्म है, तो McDonald’s मतलब हुआ डोनल्ड का बेटा। डोनल्ड एक नाम है, इसलिए इसका पहला लेटर कैपिटल लिखा होता है और मैक (Mc) नाम नहीं है।

 

 

McDonald’s की तरह ही McDowell’s में भी डॉवेल्स नाम है, लेकिन हर बार ज़रूरी नहीं कि मैक के बाद वाला शब्द पिता का नाम ही हो, कई बार ये उनका पेशा भी होता है जैसे- जॉन मैकमास्टर। यहां मास्टर नाम नहीं, बल्कि पेशा है। तो यहां इसका मतलब होगा ‘जॉन, मास्टर का बेटा’। मास्टर यानी जॉन के पिता शिक्षक या प्रोफेसर हो सकते।

 

मैकडोनल्ड ने 1996 में भारत में व्यवसाय शुरू किया। इसकी पहली दुकान दिल्ली में खुली थी, लेकिन देखते ही देखते 20  साल में मैकडोनल्ड की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई कि अब तो हर छोटे-बड़े शहरों मे इसकी ढेर सारी दुकानें दिखनी लगी हैं और ये युवाओं के बीच खासतौर पर बहुत लोकप्रिय है।



Discussions
Popular on the Web