Advertisement

शिमला के शोघी को प्रकृति ने अलौकिक शृंगार से सजाया है, उठा सकते हैं बर्फ का आनंद

11:00 am 28 Jun, 2018

Advertisement

क्या आपको शिमला के शोघी के बारे में पता है? हिमाचल प्रदेश की वादियां विश्व भर में बेहद प्रसिद्ध है। ये राज्य पर्यटकों को अपनी प्राकृतिक सुंदरता से आकर्षित करता है। यहां घूमने के लिए शिमला, कुल्लू-मनाली, कसौली, धर्मशाला- मैकलॉडगंज, डलहौज़ी और खज़ियार जैसी ख़ूबसूरत जगहें हैं। पर्यटक इन मशहूर जगहों पर तो जाते हैं, लेकिन आस-पास और भी ऐसी जगहें हैं जहां जरूर जाना चाहिए।

शिमला के शोघी को उन्हीं जगहों में से एक माना जा सकता है। इसे मंदिरों का शहर भी कहते हैं।

 

 

सिटी ऑफ टेंपल के नाम से मशहूर शिमला के शोघी को मंदिरों और छटाओं के साथ ही इतिहास के लिए भी जाना जाता है। 19वीं शताब्‍दी से पहले यहां एंग्लो-गोरखा युद्ध हुआ था।

 

आइए जानते हैं शोघी जगह में क्या है खास।

 

 

तारा देवी मंदिर यहां का सबसे प्रमुख केंद्र है। इसकी विशेषता है कि यह 250 साल से भी अधिक पुराना मंदिर है, जहां भक्तों का जमावड़ा लगा रहता है। इसके अलावा यहां काली मंदिर, हनुमान मंदिर, जाखू हिल, वाइसरेगल लॉज और कंडाघाट भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र हैं।

 


Advertisement
 

शोघी शिमला से करीब 13 किलोमीटर पहले ही स्थित है। शोघी नेशनल हाइवे-22 पर पड़ता है और यह 5700 फ़ीट की ऊंचाई पर अवस्थित है। घने वनों और ऊंचे पर्वतों से ढका ये इलाका पर्यटकों की पहली पसंद बनता जा रहा है।

 

 

शोघी ताजे फलों के जूस के लिए भी प्रसिद्ध है। यहां कई तरह के स्वादिष्ट फल उगाए जाते हैं और कारखानों में उससे जूस बनाया जाता है। लोकल डिश के रूप में अचार, जूस, शर्बत और जेली पर्यटकों द्वारा ख़ूब पसंद किए जाते हैं। प्रकृति के सुन्दर दृश्यों से सजे होने के कारण यह स्थान फोटोग्राफी के साथ-साथ ट्रेकिंग और कैंम्पिंग के लिए भी बेहद शानदार है।

 

 

वैसे तो यहां सालभर मौसम बहुत ही शानदार बना रहता है, लेकिन सितंबर से नवंबर तक यात्रा करना यादगार बन सकता है। अगर बर्फ का आनंद लेना है तो नवंबर से जनवरी के बीच यहां जा सकते हैं या फिर गर्मियों में भी घूमने-फिरने के लिए मौसम सुहाना होता है।

 

 

यहां पहुंचने के लिए अगर आप दिल्ली के रास्ते जाना चाहते हैं तो यह लगभग 370 किलोमीटर तथा चंडीगढ़ से मात्र 100 किलोमीटर दूर है। प्राइवेट कार से भी आप यहां जा सकते हैं, लेकिन दिल्ली से शिमला तक ट्रेन से जाकर फिर वहां से शोघी तक टैक्सी से भी जाया जा सकता है।

Advertisement


  • Advertisement