Advertisement

भारतीय बल्लेबाजों पर नहीं चला जादू-टोना तो इस हद तक गिर गई श्रीलंकाई टीम

author image
3:34 pm 26 Nov, 2017

Advertisement

भारत और श्रीलंका के बीच चल रहे नागपुर टेस्ट मैच में श्रीलंकाई टीम की ओर से एक ऐसी हरकत की गई जिसने क्रिकेट को शर्मसार कर दिया।

 

भारत के बल्लेबाजों का प्रदर्शन इस मैच में काफी अच्छा रहा है। टीम इंडिया की पकड़ इस मैच में काफी अच्छी बनी हुई है।

श्रीलंकाई गेंदबाजों को अब तक नाकामी ही हाथ लगी है। ऐसे में श्रीलंकाई टीम के एक गेंदबाज की ऐसी हरकत सामने आयी है, जो शर्मनाक है।

 

श्रीलंका के तेज़ गेंदबाज दसुन शनाका भारत के ख़िलाफ़ दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन गेंद के साथ छेड़छाड़ करते हुए रंगे हाथों पकड़े गए।

 

यह घटना भारत की पारी के 50वें ओवर में हुई। शनाका गेंद के धागे (सीम) को काटते हुए नजर आए। उनकी ये हरकत कैमरे में कैद हो गई। फिर मैदान पर खड़े अम्पायरों जोएल विल्सन और रिचर्ड कैटलबर्ग ने शनाका के खिलाफ मामला उठाया और शनाका ने अपना जुर्म स्वीकार भी किया।


Advertisement
ऐसे में रैफरी डेविड बून के सामने सुनवाई की आवश्यकता नहीं पड़ी। लेकिन बून ने इस मसले पर कहा कि यह गेंदबाज के करियर की शुरुआत है और उम्मीद है कि आगे से वह इन बातों का ज़रूर ध्यान रखेंगे।

 

हालांकि, छेड़छाड़ का दोषी पाने पर ICC की आचार संहिता के उल्लंघन करने को लेकर शनाका पर मैच फीस का 75 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है।

 

साथ ही शनाका के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में 3 डिमैरिट अंक भी डाले गए। अब यदि अगले 24 महीनों में उनके खाते में 4 डिमैरिट अंक और हो गए तो उन्हें कड़े प्रतिबंध का सामना करना होगा।

गौरतलब है कि इससे पहले श्रीलंका टीम अपने कप्तान दिनेश चांडीमल के एक बयान की वजह से काफी विवादों में घिर गई थी। कप्तान ने पाकिस्तान के खिलाफ खेली गई दो टेस्ट मैचों की सीरीज को जादू-टोने की मदद से जीतने की बात कही थी। चांडीमल ने कहा था:

”मैंने यूएई में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप करने से पहले ‘मेयनी’ यानि जादू टोना करने वाले का आशीर्वाद लिया था।”

उनके इस  बयान की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना की हुई थी। सोशल मीडिया पर उनका और श्रीलंका की टीम का काफी मजाक बनाया गया था।

Advertisement


  • Advertisement