Advertisement

दीया मिर्जा ने किया खुलासा आखिर क्यों उन्होंने सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना किया बंद

author image
1:22 pm 10 Dec, 2017

Advertisement

इन दिनों बॉलीवुड अभिनेत्री दीया मिर्जा भले ही बड़े परदे से दूर हैं, लेकिन वह अन्य कार्यों में व्यस्त है।

हाल ही में उन्हें सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त किया गया है। दीया हमेशा से ही पर्यावरण से जुड़े कार्यक्रमों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेती रही हैं।

 

 

सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त किए जाने के बाद हाल ही में उन्होंने पर्यावरण की सुरक्षा पर बातचीत की।

न्यूज़ पोर्टल नवभारतटाइम्स से अपनी बातचीत में दिया ने बताया कि वह उन सभी चीजों का इस्तेमाल करना बंद कर चुकी हैं, जिससे पर्यावरण को पहुचंता है।

 

 

एक सवाल के जवाब में दीया ने कहा कि मैंने अपनी जिंदगी में ज्यादातर प्लास्टिक की चीजों का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है।

 

वह बम्बू का टूथब्रश इस्तेमाल करती हैं और प्लास्टिक पैकेज्ड बोतल का पानी पीना उन्होंने छोड़ दिया है। इसके बजाय वह मेटल वॉटर बॉटल का इस्तेमाल करती हैं।

 

 


Advertisement
इसके अलावा दिया ने पीरियड्स के दौरान इस्तेमाल किए जाने सैनिटरी नैपकिन को लेकर भी बड़ी बेबाकी से जवाब दिया।

दीया ने बताया कि पीरियड्स में वह नॉर्मल सैनिटरी नैपकीन का इस्तेमाल नहीं करती क्योंकि ये पर्यावरण को तेजी से प्रदूषित करता है।

 

 

दीया मिर्जा बताती हैं-

 

“हमारे देश में स्त्रियों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए उपलब्ध सैनिटरी नैपकीन और डाइपर बहुत बड़े पैमाने पर पर्यावरण और वातावरण को प्रदूषित कर रहे हैं इसलिए मैं अपने मासिक धर्म के दिनों में सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना बंद कर चुकी हूं। एक ऐक्टर होने के नाते मेरा यह कहना बहुत बड़ी बात है क्योंकि हम सैनिटरी नैपकिन का प्रचार भी करते हैं। मुझे जब भी कभी सैनिटरी नैपकिन के प्रचार के लिए कोई ऑफर आता भी है तो मैं साफ इनकार कर देती हूं।”

 

दिया ने बताया कि वह 100 प्रतिशत प्राकृतिक रूप से नष्ट होने वाले बायो डिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं। दीया आगे बताती हैं-

 

“अब मैंने सैनिटरी नैपकिन की जगह 100 प्रतिशत प्राकृतिक रूप से नष्ट होने वाले बायोडिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। हमारे देश में सदियों से महिलाएं मासिक धर्म के दिनों में कॉटन का उपयोग करती थीं, लेकिन अब नई तकनीक की वजह से ऐसी चीजें आ गई हैं जो पर्यावरण को किसी भी तरह का कोई नुकसान न पहुंचाए।”

 

 

उन्होंने सभी महिलाओं से अपील की कि वह पर्यावरण की सुरक्षा के लिए और अपनी सेफ्टी के लिए सुरक्षित बायोडिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करें।

Advertisement


  • Advertisement