उम्र के छठे दशक में एडवेंचर ट्रिप पर निकल पड़ा यह जोड़ा, जानकर होगी हैरानी

6:53 pm 7 Jun, 2018

जीवन में एक ऐसा दौर आता है, जब लोग सब कुछ छोड़कर आराम पसंद करते हैं। वहीं ऐसे जिंदादिल लोग भी हैं, जो उम्रभर कुछ न कुछ ऐसा करते रहते हैं जिससे लोग चकित हो जाते हैं। ऐसे लोग जुनूनी या धुन के पक्के होते हैं और एडवेंचर ट्रिप की बाट जोहते हैं। हर पल रोमांच और एडवेंचर की तलाश में लगे लोग कुछ अलग करने की फिराक में रहते हैं।

 

एडवेंचर ट्रिप

 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 20 ಮೇ 2018

 

आइए आपको मिलाते हैं पूजा चौहान से जो महिलाओं के लिए ही नहीं पुरुषों के लिए भी एक मिसाल बन चुकी हैं!

 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 10 ಮೇ 2018

 

57 वर्षीय पूजा चौहान एक ऐसी ही महिला हैं जो कुछ अलग करने की चाहत रखती हैं। नौकरी से रिटायर हो चुकी पूजा ने आरामदायक यात्रा के बदले रोमांच और एडवेंचर ट्रिप को गले लगाया। वे पिछले साल अपने पति के साथ रॉयल इन्फ़ील्ड बाइक से भारत भ्रमण पर निकली। हालांकि, इस यात्रा के लिए इन्होंने अपनी तैयारी कर रखी थी।

 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 16 ಮೇ 2018

 

महाकालेश्वर मंदिर शुरू की यात्रा

 

पूजा अपने पति दिलीप चौहान के साथ पिछले साल 27 सितम्बर को उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर से यात्रा की शुरुआत की थी। दिलीप चौहान इंदौर की स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया शाखा के मैनेजर पद से रिटायर हो चुके हैं। दोनों पति-पत्नी अजमेर से होते हुए बीकानेर, दिल्ली, चंडीगढ़, अमृतसर, डलहौज़ी और श्रीनगर और फिर लेह-लद्दाख पहुंचे।




 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 19 ನವೆಂಬರ್ 2017

 

बीते लगभग 150 दिनों में ये दोनों लेह से आगरा तक 5500 किमी की यात्रा कर चुके हैं और अभी पूरा उत्तर भारत भी कवर नहीं हुआ है। अभी आधे से ज्यादा भारत भ्रमण बाकी है। एक हादसे ने इनकी यात्रा को रोका है। दरअसल, यमुना एक्सप्रेस वे पर एक हादसे में दिलीप को फ़ैक्चर हुआ और पूजा को भी चोटें आयी थीं। लिहाजा यात्रा 4 महीने के लिए यात्रा रोकनी पड़ी।

 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 9 ಮೇ 2018

 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया को दिलीप ने बतायाः

 

“अब हम आगरा से गोरखपुर होते हुए नेपाल जायेंगे। इस यात्रा में हम यही संदेश देना चाहते हैं कि रिटायरमेंट के बाद भी लाइफ है और खासकर युवाओं को कुछ इससे प्रेरणा मिले कि संभावनाओं का अंत नहीं होता है।”

 

Dilip Chauhan ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ 15 ಮೇ 2018

 

यात्रा के दौरान पूजा और दिलीप के साथ लोगों ने तस्वीरें लीं तो वहीं इनके साथ अनेकों यादें हैं। 57 वर्षीय पूजा और 61 वर्षीय दिलीप अपनी इस यात्रा से युवाओं को कड़ी चुनौती दे रहे हैं।



Discussions
Popular on the Web