इस नेता की बेटी ने किया ऐसा कारनामा कि खुद पिता ने सजाए कंधों पर सेना के सितारे

author image
6:36 pm 2 Apr, 2018

सरकार के ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान का उद्देश्य लड़कियों के साथ होने वाले लिंग भेदभाव को रोकने से लेकर उनका जन्म, पोषण और शिक्षा बिना किसी भेदभाव के होने पर जोर देना है। साथ ही उन्हें समान अधिकारों के साथ देश की सशक्त नागरिक बनाने का लक्ष्य है। अपने इस अभियान के साथ सरकार उस रूढ़िवादी सोच को खत्म कर देना चाहती है, जहां बेटियों को बेटों से कम समझा जाता है।

लड़की हो या लड़का, इसे कोई फर्क नहीं पड़ता। जिन कार्यों पर सिर्फ पहले पुरुषों का ही दबदबा था, आज वहां महिलाएं भी कंधे से कन्धा मिलाकर आगे बढ़ रही हैं।

 

हाल ही में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के हरिद्वार से सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने एक ऐसा ट्वीट किया जो देखते ही देखते वायरल हो गया।

 

उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी कि उनकी बेटी श्रेयशी निशंक विधिवत रूप से सेना में बतौर कैप्टन आर्मी मेडिकल कोर में शामिल हो गई हैं। इसके तहत श्रेयशी मिलिट्री अस्पताल रुड़की में अपनी सेवाएं देंगी।

 

डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक

 

उन्होंने अपने इस ट्वीट के साथ एक तस्वीर भी शेयर की, जिसमें वह अपनी बेटी को स्टार लगाते नजर आए।

 

 

इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया और श्रेयशी के सेना में जाने के निर्णय को लेकर अपनी भावनाएं व्यक्त की। उन्होंने लिखा:

 




 

उनके इस ट्वीट के बाद लोग उन्‍हें बधाई संदेश दे रहे हैं:

 

 

 

बताया जा रहा है कि श्रेयशी ने विदेश में लाखों रुपए की सैलरी पैकेज को ठुकराकर भारतीय सेना में शामिल होकर राष्ट्रसेवा करने का फैसला लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रेयशी के पास विदेश जाकर वहां के अस्पतालों में नौकरी करने का अवसर प्राप्त मिला था, लेकिन उन्होंने उसे ठुकरा दिया। उन्होंने विदेश में डॉक्टरी की प्रैक्टिस भी की हुई है, लेकिन उनका मन वहां नहीं लगा और वह देश वापस आकर सेना में शामिल हो गईं।



Discussions
Popular on the Web