Advertisement

इस इस्लामिक देश में मिली है दुनिया की सबसे पुरानी बुद्ध प्रतिमा, यह हैरतंगेज है

1:53 pm 18 Nov, 2017

Advertisement

पाकिस्तान के हरिपुर इलाके में करीब 48 फुट लंबी एक बुद्ध प्रतिमा खुदाई में मिली है। विशेषज्ञों का दावा है कि यह प्रतिमा दुनिया की सबसे पुरानी बुद्ध प्रतिमा है और इसका संबंध बौद्ध धर्म के शुरुआती दिनों से है।

जिस स्थान पर यह प्रतिमा मिली है, प्राचीनकाल में उस स्थान का नाम तक्षशिला था। बौद्ध साहित्य में तक्षशिला का महत्वपूर्ण स्थान है। कुषाण काल में तक्षशिला विश्वविद्यालय में दुनियाभर के छात्र पढ़ाई करने के लिए आते रहे थे।

डॉन की रिपोर्ट में खैबर के आर्कियोलॉजी व म्युजियम निदेशक डॉ. अब्दुल समद के हवाले से कहा गया हैः

“यह करीब 48 फुट लंबी सोते हुए बुद्ध की तस्वीर है। इसे तीसरी सदी का कहा जा सकता है। इस हिसाब से यह दुनिया की सबसे पुरानी बुद्ध प्रतिमा है।”


Advertisement
इस प्रतिमा को खोजकर्ताओं ने भामला स्तुप के निकट खुदाई में प्राप्त किया है। प्रतिमा का सिर अपनी जगह सही है और यह साबुत अवस्था में है।

डॉ. अब्दुल समद कहते हैंः

“खुदाई में बुद्ध से संबंधित करीब 500 से अधिक चीजें मिली हैं।”

हाल में मिली चीजों से तक्षशिला के बारे में नई चीजें जानने को मिल सकती हैं। विशेषज्ञ इन खोजों को तक्षशिला के इतिहास में नया अध्याय करार दे रहे हैं। बुद्ध का काल निर्धारित है और इन खोजों से नई चीजेों के बारे में जानकारी मिलेगी।

वर्ष 2015 में इसी स्थान पर हिन्दू देवी-देवताओं की प्रतिमाएं भी मिली थीं। देवी अष्टलक्ष्मी तथा गजलक्ष्मी की प्रतिमाएं खुदाई में प्राप्त की गईं थीं। यहां कुषाण काल के कई सिक्के व अन्यान्य चीजें मिली थीं।

Advertisement


  • Advertisement