Advertisement

श्रीनगर NIT में ‘तिरंगा लहराने वाले’ छात्रों पर पुलिस का लाठीचार्ज, CRPF तैनात

author image
11:53 am 6 Apr, 2016

Advertisement

जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के NIT कैंपस में शान्तिपूर्ण तरीके से धरना दे रहे छात्रों पर पुलिस ने बर्बरता से लाठीचार्ज किया। इस रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने न केवल छात्रों को घेरकर पीटा, बल्कि हवाई फायरिंग भी की।

Kashmir_1

इसमें 125 से अधिक छात्रों के घायल होने की खबर है, जिनमें कुछ छात्रों की हालत चिन्ताजनक है। 15 छात्रों को रैनाबाड़ी के अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है।

विवाद की शुरुआत 31 मार्च को भारत-वेस्टइंडीज क्रिकेट मैच के बाद हुई थी। इस मैच में वेस्टइंडीज के जीतने के बाद, कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगा कर जश्न मनाया था। इसका विरोध करने पर गैर-कश्मीरी छात्रों की पिटाई कर दी गई।

Kashmir_2

बाद में प्रताड़ित छात्रों के समूह ने एनआईटी कैंपस में तिरंगा लहराया और भारत माता की जय के नारे लगाए। इस घटना के बाद से ही गैर-कश्मीरी छात्रों को धमकियां मिल रहीं थीं।

इस घटना के बाद कैंपस को बंद कर यहां अर्द्धसैनिक बलों को तैनात कर दिया गया था। सोमवार को इसे खोल दिया गया।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, मिल रही धमकियों के विरोध में संस्थान के छात्रों का एक समूह मंगलवार कैंपस के बाहर शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन कर रहा था। पुलिस ने उन्हें ऐसे करने से रोका और बात लाठीचार्ज तक पहुंच गई।

कैंपस में पुलिस लाठीचार्ज की पुष्टि करते हुए जम्मू कश्मीर के उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कहाः


Advertisement
“एनआईटी के छात्र मीडिया से मिलने के लिए गेट की तरफ बढ़े तो पुलिस को हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा। कैंपस में सीआरपीएफ की दो कंपनियां तैनात की गई है, हालांकि हालात अब नियंत्रण में हैं।”

इस बीच, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से फोन पर श्रीनगर एनआईटी की स्थिति पर चर्चा की।

बाद में राजनाथ ने ट्वीट कियाः

श्रीनगर एनआईटी में करीब 2500 से अधिक छात्र पढ़ते हैं। संस्थान के ज्यादातर छात्र राज्य से बाहर के हैं।

Advertisement


  • Advertisement