Advertisement

नए शादीशुदा कपल के लिए बहुत काम के हैं ये 10 टिप्स, इन्हें जरूर आजमाएं

9:00 am 24 Jul, 2018

Advertisement

शादी हर किसी की ज़िंदगी में बहुत बड़ा बदलाव लाती है। किसी नए साथी के साथ ज़िंदगी की शुरुआत जहां आपको उत्साह से भर देती है, वहीं मन में कई तरह के डर भी रहते हैं। नए शादीशुदा कपल, खासतौर पर अरेंज मैरिज करने वालों के लिए शादी के शुरुआती कुछ महीने थोड़े मुश्किल भरे होते हैं, क्योंकि उन्हें एक-दूसरे का रवैया पता नहीं होता। ऐसे में वो हमेशा कन्फ्यूज़ रहते है कि कैसे व्यवहार करें। अगर आपकी भी नई-नई शादी हुई है तो ये टिप्स आपके बहुत काम के हैं।

 

दिखावा करने की ज़रूरत नहीं है

 

आप दोनों जीवनसाथी बन चुके हैं, ऐसे में एक-दूसरे को इंप्रेस करने के लिए झूठे दिखावे की कोई ज़रूरत नहीं है। आप जो हैं, जैसे हैं पार्टनर के साथ वैसे ही बने रहें। शुरू से ही कुछ मामलों लेकर क्लियर रहें। जैसे खर्च आदी से जुड़ा। शुरुआती दिनों में यदि आप पत्नी को बहुत महंगे गिफ्ट देंगे तो वो हमेशा आपसे यही उम्मीद करेगी। इसलिए खर्च और प्यार दोनों की सीमा तय करनी ज़रूरी है।

 

 

जिद के लिए जगह नहीं

 

शादी से पहले आप अपने पैरेंट्स से किसी बात के लिए जिद करते थे, तो वो आदत अब बदल लीजिए। शादी के बाद दोनों की ज़िंदगी में कई बदलाव आते हैं, ऐसे में पार्टनर को सामने वाले से ये उम्मीद नहीं करनी चाहिए कि वो उसकी बाद झट से मान लेगा। उसे समझने और समझाने के लिए थोड़ा वक्त दें, अपनी जिद उस पर थोपने की गलती न करें।

 

 

बेड पर न ले जाएं समस्याएं

 

शादी के शुरुआती कुछ दिन हर कपल के लिए बहुत खास होते हैं, ऐसे में एक-दूसरे से झगड़ा करके उसे बर्बाद न करें। यदि किसी मुद्दे पर मनमुटाव है तो रात होने से पहले बातचीत से उसे सुलझा लें। रात पर बेड पर पार्टनर से मुंह फुलाकर या मुंह घुमाकर सोने की आदत अच्छी नहीं है।

 

 

तुरंत प्रतिक्रिया न दें

 

पार्टनर यदि कुछ कहे तो झट से उस पर रिएक्टर करने की बजाय थोड़ा सोच-समझकर उत्तर दें। यदि आप पूरी बात सुने बिना ही झट से बीच में बोल प़ड़ेंगी तो इससे धीरे-धीरे आपके रिश्ते पर असर होगा।

 

 

तुलना न करें

 

हर इंसान एक जैसा नहीं हो सकता, किसी में कुछ अच्छे गुण होते हैं तो कुछ बुरे भी हो सकते हैं। आपकी दोस्त की पत्नी बहुत अच्छा खाना बनाती हैं, मगर आपकी पत्नी ठीक-ठाक बनाती है, तो उसकी तुलना अपने दोस्त की पत्नी से न करें। इस तरह पत्नी को भी अपने पति की तुलना किसी दूसरे मर्द से नहीं करनी चाहिए, तुलना करने पर दोनों के रिश्ते में जल्दी दरार आ जाती है।


Advertisement
 

 

गलतियों को भूलना सीखें

 

गलतियां तो हर किसी से होती हैं, ऐसे में पार्टनर की छोटी-मोटी गलतियों को भूल जाने में ही भलाई है, क्योंकि उसे याद रखने पर रिश्ते में प्यार कम हो जाता है। बुरी बातों और यादों को भुलाकर जिंदगी में आगे बढ़ते रहिए।

 

 

न कुरेदें बीते कल को

 

न तो अपने अतीत की बहुत बातें पार्नटर से शेयर करें और न ही उसके अतीत को कुरेदने की कोशिश करें। जो बीत गया उसके बारे में बात करके कुछ हासिल नहीं होने वाला, इसलिए अपने भविष्य के बारे में सोचें।

 

 

पार्टनर की राय है जरूरी

 

हर मुद्दे पर पार्टनर की राय ज़रूरत लें, इससे उन्हें लगेगा कि आप उन्हें अहमियत देते हैं और उनके मन में आपके लिए प्यार और बढ़ेगा।

 

 

खुद को भी दें समय

 

इस बात में कोई दो राय नहीं कि शादी के बाद कपल्स अक्सर साथ ही समय बिताते हैं, लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि आप अपने लिए बिल्कुल ही समय न निकालें। अपनी पसंद की चीजों और शौक को पूरा करने के लिए कुछ समय सिर्फ और सिर्फ खुद को दें और पार्टनर को भी थोड़ा पर्सनल स्पेस दें।

 

 

प्यार के साथ जरूरी है रिस्पेक्ट

 

बहुत जरूरी है कि कपल्स एक-दूसरे का सम्मान करें। प्यार तो जरूरी है ही, मगर कपल्स यदि एक-दूसरे की इज्जत नहीं करेंगे तो उनका रिश्ता ज़्यादा नहीं टिक पाएगा।

 

Advertisement


  • Advertisement