Advertisement

30 साल पहले इस पूर्व क्रिकेटर ने बनाया था रिकॉर्ड, अब बेटे ने ही तोड़ दिया

5:31 pm 15 Nov, 2017

Advertisement

क्रिकेट में रिकॉर्ड बनते और टूटते रहे हैं। यही वजह है कि क्रिकेट को अब अनिश्चितताओं के खेल से अधिक रिकॉर्ड्स का खेल कहा जाने लगा है। अब एक नया रिकॉर्ड बना है। यह रिकॉर्ड बनाया है पूर्व क्रिकेटर नयन मोंगिया के बेटे ने।

जी हां, नयन मोंगिया के बेटे मोहित मोंगिया ने करीब 30 साल बाद अपने पिता के ही उच्चतम स्कोर के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। कूच बिहार ट्रॉफी मुंबई के खिलाफ खेलते हुए मोहित ने 240 रनों की शानदारी पारी खेली है। मोहित ने इसके लिए 246 गेन्दों का सामना किया। यह बड़ौदा की ओर से कूच बिहार ट्रॉफी में किसी बल्लेबाज का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है।

मोहित इन दिनों कूच बिहार ट्रॉफी में बड़ौदा की अंडर-19 क्रिकेट टीम की कप्तानी कर रहे हैं। वह अपने खेल से लोगों के बीच चर्चा में हैं।

वर्ष 1988 में मोहित के पिता नयन मोंगिया ने बड़ौदा की तरफ से खेलते हुए केरल के खिलाफ 224 रनों की पारी खेली थी। नयन मोंगिया भारत के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज रह चुके हैं और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 44 टेस्ट और 140 एकदिवसीय मैच खेले थे।

फिलहाल, बेटे की कामयाबी पर नयन मोंगिया खुश हैं।


Advertisement
मोंगिया कहते हैंः

‘मैं बहुत खुश हूं कि मेरे बेटे ने इस रिकॉर्ड को तोड़ा है। मोहित शानदार खेल रहा है और वह इस रिकॉर्ड के योग्य भी है।

माना जा रहा है कि मोहित मोंगिया अगर इसी तरह आगे बढ़ते रहे तो जल्द ही वह भारतीय टीम की तरफ से खेलते हुए दिखाई देंगे।

Advertisement


  • Advertisement