Advertisement

फ़िल्मी पर्दे की ट्रेजेडी क्वीन मीना कुमारी की अदाओं का हर कोई था कायल

author image
4:44 pm 31 Mar, 2016

Advertisement

बड़े पर्दे पर अपने ग़मगीन किरदारों और निजी ज़िन्दगी की उठापटक की वजह से ट्रेजेडी क्वीन के नाम से चर्चित मीना कुमारी का निधन 1972 में 31 मार्च को हुआ था। मृत्यु के वक़्त उनकी उम्र महज 40 साल थी।

उनके नाम कई बेहतरीन फिल्में हैं, जिनमें मीना कुमारी ने अपने अतुल्य अभिनय की गहरी छाप छोड़ी है। परिणीता, पाकीज़ा, साहेब बीबी और गुलाम, दिल एक मंदिर, बंधन जैसी कई फिल्मों ने मीना कुमारी को कई दिलों की धड़कन बना दिया।

मीना कुमारी एक दिलकश अदाकारा होने के साथ-साथ एक बेहतरीन शायर भी थीं। उन्होंने लिखा थाः

तलाक़ दो रहे हो नज़र ए क़हर के साथ
जवानी भी मेरी लौटा दो मेहर के साथ।


Advertisement
मीना कुमारी का नाम कई हस्तियों से जोड़ा गया, जिनमें फिल्म बैजू बावरा के अभिनेता भारत भूषण प्रमुख थे। कहा जाता है कि इस फिल्म के निर्माण के वक्त भारत ने मीना कुमारी के सामने अपने प्यार का इज़हार कर दिया था। उनके प्यार और रोमांस के चर्चे अभिनेता धर्मेंद्र के साथ रहे थे।

Advertisement


  • Advertisement