BCCI ने बढ़ाई भारतीय अंपायरों की इतनी सैलरी कि पाकिस्तान के अंपायर तो जल-भुन रहे होंगे

author image
3:56 pm 5 Jun, 2018

क्रिकेट में अंपायर की भूमिका काफी अहम होती है। एक उंगली उठाते ही खिलाड़ी को पवेलियन का रास्ता दिखाने वाले ये अंपायर भले ही खिलाड़ियों जितने लोकप्रिय न हो, लेकिन क्रिकेट के मैदान पर इनका रोल अहम होता है। अंपायरिंग करना बिलकुल आसान नहीं है। दो अंपायर मैदान पर होते हैं वहीं एक थर्ड अंपायर और फोर्थ अंपायर भी होता है। अंपायर मैदान के अन्दर हो या मैदान के बाहर, खेल की बारीकियों पर उन्हें लगातार अपनी पैनी नजरें रखनी होती है। अंपायर का लिया गया एक गलत फैसला उनकी काबिलियत पर सवाल खड़ा कर देता है। उनके एक गलत फैसले से मैच का नतीजा तक प्रभावित होता है। इसलिए इस पेशे से जुड़ी जिम्मेदारियों को बड़ी ही सजगता से निभाना होता है। आपने भारतीय खिलाड़ियों के मोटे-तगड़े पे स्केल के बारे में कई बार पढ़ा होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं मैदान पर दिन भर खड़े रहने वाले अंपायर की सैलरी कितनी होती है?

 

 

भारतीय क्रिकेट खिलाड़ियों पर रुपयों की बारिश करने वाली BCCI ने भारतीय अंपायर की सैलरी को दुगुना करने का निर्णय लिया है।

 

पहले फर्स्ट क्लास और वनडे मैचों के लिए अंपायरों को प्रति दिन की 20,000 रुपए सैलरी दी जाती थी। अब नई फीस स्ट्रक्चर के अनुसार,  टॉप 20 अंपायरों को 40,000 रुपए प्रति दिन के हिसाब से सैलरी दी जाएगी।

 

 

वहीं टी-20 के लिए अंपायर को एक मैच के 20,000 रुपए दिए जाएंगे। अंपायर की सैलरी में हुआ ये इजाफा BCCI की सबा करीम की अध्यक्षता वाली क्रिकेट ऑपरेशन विंग की देन है।




 

Umpires salary (अंपायर की सैलरी)

 

क्रिकेट ऑपरेशन विंग के  अंपायर की सैलरी को बढ़ाने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट ने भी हरी झंडी दे दी है। अंपायरों के लिए बनाया गया ये नया सैलरी स्लैब साल 2018 में शुरू होने वाले डोमेस्टिक सीजन से लागू हो जाएगा।

 

 

जहां सैलरी के मामले में भारतीय अंपायरों की बल्ले-बल्ले हो गई है।वहीं पाकिस्तान के अंपायरों का हाल बेहद ही खस्ता है। डेली टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) पाकिस्तानी अंपायरों को 6000 रुपए प्रति दिन के हिसाब से सैलरी देती है। ये 6000 रुपए भी उनके हाथों में पूरे नहीं आते। इस पर इनकम टैक्स कटता है। इनकम टैक्स काटने के बाद अंपायरों के हाथ में 5500 ही आते हैं।

 



Discussions
Popular on the Web