Advertisement

भारत के प्रति ऐसे थे हिटलर के विचार, जानकर आश्चर्य होगा आपको

11:05 am 15 Aug, 2018

Advertisement

दुनिया के सबसे क्रूर तानाशाहों में से एक इटली के अडॉल्फ हिटलर से लोग आज भी नफरत करते हैं। दरअसल, हिटलर क्रूर तो था ही साथ ही वह किसी भी मुद्दे पर अपनी मज़बूत राय के लिए भी जाना जाता था, भले ही राय गलत ही क्यों न हो। हिटलर ने यहूदियों पर बहुत जुल्म किए और वो उन्हें बहुत नीच समझता था। वैसे भारत के बारे में भी हिटलर के विचार कुछ अच्छे नहीं थे। भारत के बारे में हिटलर के विचार जानने का बाद शायद आपकी उसके प्रति नफरत और बढ़ जाएगी।

 

1. अडॉल्फ हिटलर के मुताबिक भारत ब्रिटिश हुकूमत के अधीन ही ठीक था

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

हिटलर ने भले ही ब्रिटिशों के खिलाफ लड़ाई लड़ी हो, लेकिन बावजूद इसके भारत पर अंग्रेज़ों की हुकूमत को वो सही ठहरता था। वो हमेशा सोचता था कि जिस तरह अंग्रेज़ों ने भारतीय उप-महाद्वीप को गुलाम बनाया है, अगर उसे मौका मिले तो वो भी पूरब की दुनिया पर ऐसे ही राज करता।

 

2. भारत की आजादी की लड़ाई बेकार है

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

हिटलर को लगता था कि भारत का स्वतंत्रता संग्राम बेकार है और इसका कोई फायदा नहीं होने वाला। इसकी बदलौत हमे अंग्रेज़ों से आज़ादी नहीं मिलेगी।

 

3. अंग्रेजों को महात्मा गांधी और कांग्रेस नेताओं को गोली मार देनी चाहिए

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

1937 में हिटलर ने ब्रिटेन के फॉरेन सेक्रेटरी से चर्चा के दौरान कहा था कि आज़ादी की लड़ाई को दबाने के लिए अंग्रेज़ों को महात्मा गांधी और कांग्रेस नेताओं को मार देना चाहिए। यदि तब पर भी लोगों का जोश ठंडा न हो तो और लोगों  गोली मारनी चाहिए और ये सिलसिला तब तक चलना चाहिए जब तक आज़ादी का संघर्ष रुक न जाए।

 

4. चंद बुद्धिमान अंग्रेज इतने बड़े महाद्वीप पर शासन कर रहे हैं

 


Advertisement
भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

हिटलर ने ब्रिटेन के फॉरेन सेक्रेटरी से चर्चा के दौरान यह भी कहा था कि उसकी पसंदीदा फिल्म द लाइव्स ऑफ अ बंगाल लांसर है, क्योंकि इस फिल्म मे दिखाया गया है कि कैसे थोड़े से बुद्धिमान अंग्रेज लाखों लोगों पर शासन करते हैं।

 

5. भारत पर अंग्रेजों का शासन रूस से बेहतर है

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

हिटलर का कहना था कि भारत पर अंग्रेज़ों का शासन अच्छा है और इसे जारी रहना चाहिए। दरअसल, हिटलर को डर था कि यदि अंग्रेज़ भारत छोड़ते हैं तो उस पर रूस कब्जा कर लेगा और हिटलर ऐसा नहीं चाहता था। सुभाष चंद्र बोस से हुई मुलाकात के दौरान भी वह अपना ये डर जाहिर कर चुका था।

 

6. भारतीय अपने बेहतरीन रक्त संबंध खो चुक हैं

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

नाजी विचारधारा के अल्फर्ड रोसेनबर्ग मुताबिक, वैदिक काल में भारतीय वास्तव में आर्यन थे और वो बुद्धिमान थे। हालांकि, वक्त के साथ-साथ इसमें दूसरे लोग भी जुड़ते गए और भारतीयों ने अपने बेहतरीन रक्त संबंध खो दिए।

 

7. हिटलर भारत का विभाजन चाहता था

 

भारत के प्रति हिटलर के विचार (hitlers thoughts about india)

 

हिटलर की योजना भारत का बंटवारा करने की भी थी। हिटलर ने सोचा था कि वो भारत को जापान और जर्मनी के बीच बांट लेगा और अपने-अपने हिस्से पर शासन करेगा।

Advertisement


  • Advertisement