Advertisement

हिंदू धर्म के इन 12 रोचक तथ्यों के बारे में आपको किसी ने नहीं बताया होगा

4:13 pm 31 May, 2018

Advertisement

हिंदू धर्म के रोचक तथ्य। हिंदू धर्म दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा धर्म है और इसके साथ बहुत से दर्शन और मान्यताएं जुड़ी हुई हैं। हिंदू धर्म के अपनी सदियों पुरानी परंपराओं और मान्यताओं को आगे बढ़ाती जा रही है। हम आज भी पुराने रीति-रिवाजों को मानते चले आ रहे हैं। बचपन से आप बड़े-बुज़ुर्गों के मुंह से हिंदू धर्म के बारे में बहुत कुछ सुनते आए होंगे, बावजूद इसके हिंदू धर्म के बारे में बहुत सी ऐसी बातें है जो शायद आपको किसी ने नहीं बताई होगी। यहां रहे हिंदू धर्म के रोचक तथ्य।

 

असली नाम सनातन धर्म

 

कुछ लोग इसे वैदिक धर्म भी कहते हैं। सनातन का अर्थ है अनंत धर्म या अनंत सत्य।

 

 

कोई संस्थापक नहीं

 

दूसरे धर्मों की तरह हिंदू धर्म का कोई संस्थापक नहीं है। यह भारत का राज्यधर्म है और 1500-2000 ईसा पूर्व में ये चलन में आया। उस समय से संत और पुजारियों ने इस धर्म को बढ़ावा दिया। इसका कोई एक संस्थापक नहीं है।

 

 

सिर्फ एक ईश्वर

 

हिंदू धर्म में सिर्फ एक ही ईश्वर है और वो है ब्राह्मण। ब्राह्मण के तीन रूप है, ब्रह्मा, विष्णु औक महेश। आगे फिर इनके अनेक रूप है, जिसमें राम, कृष्ण, देवी सरस्वती, लक्ष्मी आदि शामिल हैं।

 

 

पत्थर से लेकर पौधों तक की पूजा

 

हिंदू धर्म में सिर्फ मूर्ति की ही पूजा नहीं की जाती, बल्कि पेड़ पौधों और पत्थर के अलावा लोग पृथ्वी और गाय की भी पूजा करते हैं। यानी हिंदू धर्म मूर्तिपूजन तक सीमित नहीं करता है।

 

 

एकमात्र धर्म जो नारीवाद को बढ़ावा देता है

 

हिंदू धर्म का रोचक तथ्य यह भी है कि यह धर्म नारीवाद को बढ़ावा देता है। राम, कृष्ण, शिव, माता लक्ष्मी, माता सरस्वती, माता वैष्णो आदि को ब्रह्मा जी ने समान अधिकार दिए थे। देवियों को देवताओं के बराबर की शक्ति प्राप्त थी।

 

 

मासिक धर्म वाली देवी की पूजा

 

मासिक धर्म को लेकर भले ही हमारे समाज में झिझक वो, मगर असम के कामख्या देवी मंदिर में कामाख्या माता की पूजा की जाती और कहा जाता है देवी मां मासिक धर्म में हैं। पीरियड्स के दौरान देवी की पूजा किए जाने से ये संदेश जाता है की पीरियड्स के दौरान महिलाएं अपवित्र नहीं होती।


Advertisement
 

 

कुछ हिंदू मंदिर अलग उद्देश्य के लिए बनाए गए

 

आपन खजुराहों के मंदिर के बारे में तो सुना ही होगा जहां देवी-देवताओं की जगह कामुक मूर्तियों की भरमार है। दरअसल, ये मंदिर उस वक़्त बना था जब लोग सांसारिक सुख छोड़कर संत बनकर मंदिरों में ही अपना समय बिताने लगे थे, जिससे उस क्षेत्र की जनसंख्या तेज़ी से कम होने लगी थी।

 

 

लचीला धर्म

 

हिंदू धर्म बहुत लचीला है और ये सभी तरह के बदलावों को आसानी से समाहित कर लेता है। हालांकि, इस धर्म में एक ही ईश्वर है, मगर लोग उनके अलग-अलग रूप की पूजा करते हैं।

 

 

कोई लिखित शास्त्र नहीं

 

हिंदू धर्म का मकसद वेदों को सुनकर उसे आत्मसात करना था, न कि केवल लिखना। हालांकि बाद में कई संतों ने शास्त्रों की रचना की। यह भी हिंदू धर्म के रोचक तथ्य में एक है।

 

 

हिंदू धर्म में जाति का बंधन नहीं

 

हिंदू धर्म में जातिवाद की कोई अवधारणा ही नहीं है, ये तो लोगों द्वारा बनाया गया है जो धर्म को जाति के आधार पर बांटना चाहते थे।

 

 

धन को पाप नहीं समझा जाता

 

आपने कई महात्माओं को कहते सुना होगा कि धन-दौलत पाप और माया है, मगर हिंदू धर्म में धन, काम और मानव की आधारभूत ज़रूरतों को पूरा करने पर विश्वास करता है। लोग धन के देवी लक्ष्मी, शांति के लिए माता संतोषी और काम के लिए माता रति की अराधना करते हैं।

 

 

आत्महत्या का अधिकार

 

हमारे कानून के मुताबिक, आत्महत्या करना अपराध है, मगर हिंदू धर्म में ये एक व्यक्ति का अधिकार माना गया है। ऐसा करके कोई व्यक्ति ब्रह्मांड की अनंत शक्तियों तक पहुंच सकता है।

 

Advertisement


  • Advertisement