भारतीय फुटबॉलर सुनील छेत्री का भावुक मैसेज, गालियां देने ही सही, मगर देखने आएं मैच

9:30 am 5 Jun, 2018

70 के दशक में कपिल देव की कप्तानी में विश्व कप जीतने के बाद भारत में क्रिकेट धीरे धीरे लोकप्रिय होने लगा। क्रिकेट की बढ़ती लोकप्रियता ने लोगों को इस कदर अपना दीवाना बनाया कि इसने हॉकी जैसे राष्ट्रीय खेल को भी गर्त में ढकेल दिया। आज आलम ये है कि भारत में इस खेल को धर्म की तरह पूजा जाता और लोग इससे जुड़े खिलाड़ियों को सिर-आखों पर बिठाते हैं। यही वजह है कि भारत में क्रिकेट अब अन्य खेलों के लिए एक बड़ा खतरा बन चुका है। विश्‍व क्रिकेट में भारत की बादशाहत से दूसरे खेलों के प्रति लोगों का रुझान दिनों- दिन घटता जा रहा है। ऐसे में फुटबॉल के प्रति लोगों की घटती रुचि को देखते हुए भारतीय फुटबॉलर सुनील छेत्री ने लोगों से आगे आकर इस खेल को प्रोत्साहित करने की अपील की है।

हाल ही भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने एक भावुक संदेश के जरिए लोगों से फुटबॉल के लिए सपोर्ट मांगा है। इस स्टार फुटबॉलर ने मैसेज में कहा हैः

‘’ये मैसेज आप सभी के लिए है जिन्होंने भारतीय फुटबॉल से उम्मीदें छोड़ दी हैं। हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप मैदान पर हमारा मैच देखने के लिए जरूर आएं। इंटरनेट पर हमें गालियां देने या बुराई करने का कोई फायदा नहीं है। स्टेडियम आकर हमारे मुंह पर हमें गालियां दीजिए। हो सकता है कि एक दिन हमारे प्रति आपकी ये सोच बदल जाए और आप हमारे लिए तालियां बजाने लगें। आपका सपोर्ट हमारे लिए बहुत जरूरी है।’’

 

सोशल मीडिया पर भारतीय फुटबॉलर सुनील छेत्री का ये भावुक मैसेज आते ही विराट कोहली भी उनके समर्थन में आए और अपने फैंस से इस खेल को सपोर्ट करने की अपील की। इसके अलावा भी कई लोग सुनील को इंटरनेट पर सपोर्ट करते नजर आ रहे हैं।




 

 

बता दें कि भारत का ये स्टार फुटबॉलर सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय गोल करने वाले एक्टिव फुटबॉलरों की फेहरिस्त में डेविड विला के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है। सुनील अब तक खेले 98 मैचों में कुल 59 गोल कर चुके हैं।

 

 

जाहिर है कि हममें से अधिकतर लोग क्रिकेट की ही तरह फुटबॉल का भी स्वर्णिम दौर देखना चाहते है। भारत को फुटबॉल विश्वकप में ब्राजील जैसी टीम के साथ खेलते देखने की इच्छा हर किसी है, लेकिन ऐसा तभी संभव है जब इस खेल को हम सभी मिलकर प्रोत्साहित करें।



Discussions
Popular on the Web