OMG: वर्ष 2015 के क्रिकेट विश्वकप फाइनल में भी हुई थी बॉल टेम्परिंग, ये हैं गुनहगार

8:19 pm 31 Mar, 2018

जेंटलमैन्स गेम कहे जाने वाले क्रिकेट में बॉल टेम्परिंग यानि  गेंद से की गई छेड़छाड़ को एक गंभीर आरोप माना जाता है। इन दिनों बॉल टेम्परिंग के आरोपों  में धिरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की खासी किरकिरी हो रही है। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों द्वारा बॉल टेंपरिंग के आरोपों को स्वीकारने के बाद अब ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम पर सवालिया निशान खड़ा हो चुका है।

 

 

ऑस्ट्रेलिया के प्लेयर्स पर लगे आरोपों के बीच न्यूजीलैंड के खिला़ड़ी ग्रांट इलियट ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर अपना शक जाहिर करते हुए कहा कि साल 2015 में हुए विश्वकप के दौरान भी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने बॉल टेंपरिंग कर जीत हासिल की होगी।

 

 

दरअसल,  बीते सप्ताह दक्षिण अफ्रीका और आॅस्ट्रेलिया के बीच केपटाउन में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में बॉल टेंपरिंग की घटना सामने आई थी। इस घटना के बाद स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरन बैन्क्रॉफ्ट नें खुद पर लगे बॉल टेम्परिंग के आरोपों को स्वीकारा था। स्मिथ द्वारा सार्वजनिक रूप से बॉल टेंपरिंग की बात कबूलने के बाद  न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर ग्रांट इलियट ने ऑस्ट्रेलिया टीम पर साल 2015 में हुए विश्व कप मुकाबले के दौरान गेंद के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है।

 




 

न्यूज़ीलैंड के एक रेडियो शो ‘होराकी ब्रेकफास्ट’  को दिए साक्षात्कार में  इलियट ने इसी घटना का जिक्र  करते हुए कहा  कि 2015 के विश्व  कप मुकाबले के दौरान न्यूजीलैंड की टीम 150 रनों पर 3 विकेट के नुकसान पर एक अच्छी स्थिति में थी। हालांकि, कुछ ही ओवर्स में पूरी टीम 185 रनों पर सिमट गई।

 

 

वह बताते है कि सैंडपेपरगेट  की एवरेज में भी उतार- चढ़ाव नजंर आया। सैंडपेपरगेट से पहले औसत कुछ और रहा जबकि बाद में कुछ और। जाहिर है कि कुछ गेंदबाजों पर जांच के बाद गाज जरूर गिरेगी और सवाल उठेंगे कि आखिर गेंद से छेड़छाड़ करने का यह सिलसिला कब से जारी था ।

 

 

हालांकि दक्षिण अफ्रीका में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्टीव स्मिथ के साथ हुए बर्ताव को वो गलत मानते  हैैं। उनका कहना है कि खिलाड़ियों से गलती हुई है और इस विवाद का  खामियाजा आने वाले देिनों में इन खिलाड़ियों को भुगतना पड़ेगा, लेकिन उनसे किसी खतरनाक अपराधी की तरह पेश आना सही नहीं है।

इलियट का मानना है कि  अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इस तरह के घोटाले बड़े स्तर पर खिलाड़ियों को प्रभावित कर रहे हैं।



Discussions
Popular on the Web