Advertisement

अब बंद हो जाने चाहिए इन बॉलीवुड फिल्मों के सीक्वल बनना, बोर हो चुके हैं दर्शक

1:50 pm 8 Sep, 2018

Advertisement

बॉलीवुड में ज़्यादातर या तो रीमेक बनती हैं, बायोपिक या फिर सीक्वल। ओरिजन कहानी का तो जैसे यहां अकाल पड़ा हुआ है। एक फिल्म क्या हिट होती है, फिल्ममेकर उसका सीक्वल बना डालते हैं और यदि सीक्वल को भी लोगों ने पसंद किया तो उसकी अगली कड़ी भी बन जाती है, यानी फ्रेंचाइज़ी। अब तक कई फिल्मों की फ्रेंचाइज़ी बन चुकी है, लेकिन कुछ फिल्में ऐसी भी हैं जिसे देखकर दर्शक बुरी तरह पक चुके हैं और उनके दिल से एक ही आवाज़ आ रही है, ‘बहुत हुआ अब बस भी करो।’ चलिए आपको बताते हैं कि किन फिल्मों की फ्रेंचाइज़ी बंद कर दी जानी चाहिए।

 

यमला पगला दीवाना

 

हाल ही में इस सीरीज की तीसरी फिल्म आई, जिसे दर्शकों का अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला। यह फिल्म श्रद्धा कपूर और राजकुमार राव की फिल्म स्त्री के साथ ही रिलीज़ हुई, लेकिन फिल्म को दर्शक नहीं मिले, जबकि स्त्री लोगों को पसंद आई। आपको बता दें कि धर्मेन्द्र, बॉबी देओल और सनी देओल अभिनीत यमला पगला दीवाना 2011 आई थी, जब यह फिल्म हिट रही। इसके बाद फिल्म का दूसरा पार्ट बना जो ठीक-ठाक रहा और अब तीसरा पार्ट लोगों को बिल्कुल नहीं भाया।

 

 

हेट स्टोरी

 

इस फिल्म का चौथा पार्ट भी बन चुका है। पहली हेट स्टोरी हिट रही थी, जिसे देखते हुए फिल्ममेकर ने उसका दूसरा पार्ट बना डाला और उसके बाद तीसरा। ये तीनों फिल्में तो दर्शकों को पसंद आई, मगर इसी साल जब इस फिल्म का चौथा पार्ट आया तो लोगों के सब्र का बांध टूट गया। एक ही कलाकार और एक जैसी ही कहानी से बोर हो चुके दर्शकों ने इस फिल्म को नकार दिया।

 

 

1920


Advertisement
 

इस फिल्स के भी चार पार्ट बन चुके हैं। 2008 में आई फिल्म 1920 हिट रही थी, इस फिल्म की दूसरी फ्रेंचाइज़ी भी हिट रही, लेकिन इसका तीसरा पार्ट कुछ खास नहीं रहा। 2017 में इसका चौथा पार्ट आया, जिसमें एक्ट्रेस ज़रीन खान और टीवी एक्टर करण कुंद्रा लीड रोल में थे, फिल्म बुरी तरह फ्लॉप रही थी।

 

 

मस्ती

 

पहली बार आई फिल्म मस्ती जो 3 दोस्तों की अय्याशियों पर बनी थी, लोगों को बहुत पसंद आई, लेकिन उसके बाद बनी इसकी फ्रेंचाइज़ी ग्रैंड मस्ती, ग्रेट ग्रैंड मस्ती दर्शकों को नहीं भाई। दरअसल, दर्शक एक ही तरह की कॉमेडी से बुरी तरह पक चुके हैं और चाहते हैं कि इस फिल्म की अगली कड़ी तो बिल्कुल भी न बने।

 

 

क्या कूल हैं हम

 

एकता कपूर की ये फिल्म एडल्ट कॉमेडी थी जो लोगों को पसंद आई थी, लेकिन जब इसका सीक्वल बना क्या सुपर कूल हैं हम, तो डबल मीनिंग वाली ये फिल्म हर किसी को हज़म नहीं हुई। ऐसी कॉमेडी भारतीय दर्शकों को कम ही पसंद आती है, क्योंकि ऐसी फिल्म परिवार के साथ नहीं देखी जा सकती है। खबरों की मानें तो इस फिल्म की अगली कड़ी जल्द ही आने वाली है, लेकिन अच्छा तो यही होगा कि इसकी अगली कड़ी न बने।

 

Advertisement


  • Advertisement