Advertisement

यह शख्स घोड़े पर सवार होकर पहुंचा अपने ऑफिस, दिलचस्प है वजह

7:34 pm 17 Jun, 2018

Advertisement

पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर रूपेश वर्मा ने जो कदम उठाया उसकी चर्चा जोरों पर है। उन्होंने घोड़े पर सवार होकर ऑफिस जाने की ठानी। हालांकि, रूपेश के इस कारनामे ने एक नई बहस को जन्म दे दिया है।

 

आईटी हब के लिए जाने जानेवाले शहर बेंगलुरू की सड़कों पर जब लोगों ने इस शख्स को घोड़े पर सवार देखा तो हर कोई रह गया।

 

 

दरअसल, बेंगलुरू शहर न केवल आईटी इंडस्ट्री के लिए, बल्कि अपने ट्रैफिक की दुरावस्था के लिए भी जाना जाने लगा है। रूपेश ट्रैफिक से बच निकलने के लिए घोड़े पर सवार होकर घर से निकल पड़े। गौरतलब है कि ये उनके ऑफिस का आखिरी दिन था। ये बेंगलुरू शहर के ट्रैफिक से खासे परेशान हो चुके थे।

ऐसा नायब कदम उठाने के बाद भी रूपेश घोड़े पर सवार होकर पूरे 7 घंटे की यात्रा कर ऑफिस पहुंचे। रिपोर्ट की मानें तो वो सुबह 7 बजे घर से निकलकर दोपहर 2 बजे दफ़्तर पहुंचे।

 


Advertisement

देखते ही देखते दफ्तर पहुंचने से पहले ही उनकी ये तस्वीरें वायरल हो गईं, जिससे रूपेश खुद वाकिफ नहीं थे। अपने इस कदम के बारे में रूपेश ने बताया-

 

“मुझे एकदम नहीं पता था कि मेरा काम वायरल हो जायेगा। चूंकि आज जॉब पर आखिरी दिन था और बेंगलुरू के ट्रैफिक से परेशान हो चुका था तो मैंने एक सन्देश देने के लिए ऐसा कदम उठाया। आईटी का इस्तेमाल करते हुए इस ट्रैफिक जाम से भी मुक्त हुआ जा सकता है। जब दुनिया की सभी समस्याएं हल हो रही हैं तो फिर ट्रैफिक की क्यों नहीं?”

 

बताते चलें कि रूपेश 8 साल से आईटी सेक्टर में काम कर रहे हैं और वो अब जॉब से तौबा करते हुए अपना स्टार्टअप शुरू करने जा रहे हैं। हालांकि, रूपेश ने भारतीय सेना के लिए काम करने की इच्छा भी जताई है।

Advertisement


  • Advertisement