Advertisement

बाबा राम रहीम पर फैसला से पहले पंजाब, हरियाणा में इन्टरनेट बंद

5:29 pm 24 Aug, 2017

Advertisement

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर यौन शोषण से जुड़े मामले में कल यानी शुक्रवार को फैसला आने वाला है।

इस फैसले के लेकर पंजाब व हरियाणा में तनाव की स्थिति है। हालात की गंभीरता को देखते हुए इन राज्यों में इन्टरनेट सेवा को तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया गया है। साथ ही सेना को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है।

वहीं, हाईकोर्ट ने गुरुवार को राज्य सरकार को साफ शब्दों में हिदायत देते हुए कहा कि जाट आंदोलन जैसे हालात किसी भी स्थिति में नहीं दोहराया जाए। चंडीगढ़ में धारा 144 लागू होने के बावजूद हजारों की संख्या में लोग इकट्ठा हो रहे हैं और इस पर हाईकोर्ट ने कड़ी टिप्पणी की है।

कोर्ट ने आईबी से राज्य सरकार को इनपुट देने के लिए कहा है।

सरकार का कहना है कि डेरा समर्थकों द्वारा किसी अनहोनी की आशंका देखते हुए सुरक्षा के अभूतपूर्व इन्तजाम किए गए हैं।


Advertisement

साथ ही ड्रोन्स के जरिए निगरानी की जा रही है।

पुलिस के 50 हजार जवानों की तैनाती की गई है।

महिला अनुयायियों से रेप का आरोप

जिस मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ फैसला आने वाला है वो रेप से जुड़ा है। वर्ष 2002 में दो महिला अनुयायियों का एक पत्र पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट को मिला, जिसमें डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर यौन शोषण का आरोप लगाया गया था। इसके बाद हाई कोर्ट ने जांच सीबीआई को सौंपी जो वर्ष 2007 में पूरी हुई और स्पेशल कोर्ट को रिपोर्ट सौंपी गई। 2008 में राम रहीम के खिलाफ आरोप तय कर दिए गए और अब पंचकुला में विशेष अदालत अपना फैसला सुनाएगी।

दुनिया भर में फैला है गुरमीत राम रहीम का साम्राज्य

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम का साम्राज्य भारत से लेकर अमेरिका तक फैला हुआ है। डेरा की स्थापना वर्ष 1948 में शाह मस्ताना महाराज ने की थी। शाह मस्ताना महाराज के बाद डेरा के गद्दीनशीन शाह सतनाम महाराज बने। उन्होंने 1990 में अपने अनुयायी संत गुरमीत सिंह को गद्दी सौंपी थी। डेरा का दावा है कि दुनिया भर में इसके 5 करोड़ से अधिक अनुयायी हैं, जिसमें 25 लाख के करीब हरियाणा में हैं।

Advertisement


  • Advertisement