Advertisement

दुनिया के इन 9 जगहों का रहस्य कोई सुलझा नहीं सका, यहां जाना खतरे से खाली नहीं है

author image
9:00 am 7 Jul, 2018

Advertisement

मनुष्य अपने स्वाभाव के अनुसार  घुमंतू और जिज्ञासू प्राणी है। वह प्रकृति के गर्भ में पल रहे हर रहस्य को सुलझा लेना चाहता है। लेकिन दुनिया में रहस्यमयी अविश्वसनीय और अद्भुत स्थलों की कमी नही है। विज्ञान भले ही मनुष्य को चाँद तक पहुचा चुका है लेकिन प्रकृति के हर रहस्य को  समझना और उसे सुलझाना आज भी असंभव है।

 

प्रकृति का रहस्य।

 

घूमना, नई जगहों के बारे में जानना और उन्हे करीब से देखना किसे पसंद नही होता। हमे टेक्नोलॉजी का शुक्रिया अदा करना चाहिए, क्योंकि इसने दुनिया को सीमित बना दिया। यदि आपके पास पैसा है, तो आप विमान ले सकते हैं। एक रोमांचक सफ़र का खांचा खीच सकते हैं और 24 घंटे के भीतर दुनिया के अधिकांश स्थानों पर पहुंच सकते हैं।

इसके बावजूद दुनिया में कई ऐसी रहस्यमयी जगहें हैं जहां आम आदमी  का जाना मना है। कुछ जगहों को जीव-जन्तु और पर्यावरण को बचाने हेतु प्रतिबंध किया गया है। तो कुछ जगह को गुप्त सैन्य संस्थाओं के कारण , तो कुछ जगह ऐसी भी हैं जो बेहद ख़तरनाक और जानलेवा साबित हो सकती है। ऐसे स्थानों की यात्रा करना सुरक्षा के दृष्टिकोण से बेहद संवेदनशील माना जाता है। इस लेख में हम दुनिया की 9 ऐसी जगहों को उजागर करेंगे जहां इंसानों के जाने की सख्त मनाही है।

 

एरिया 51

 

 

‘एरिया 51’ एक मिलिटरी इलाका है, जो अमेरिकी शहर लास वेगास से 80 मील उत्तर-पश्चिम में स्थित है। इसकी सुरक्षा स्वयं अमेरिकी सरकार करती है। यह इलाका अक्सर चर्चा का केंद्र बना रहता है, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यहां दूसरे ग्रहों से आए एलियन्स पर शोध कार्य किया जाता है। कई लोगों ने तो यहां तक दावा किया है कि उन्होंने कई बार यूएफओ को वहां उड़ते देखा है।

 

नॉर्थ सेंटिनल आइलैंड

 

आसमान से अगर इस द्वीप का नजारा लिया जाए तो यह किसी भी आम आइलैंड की तरह एकदम शांत और खूबसूरत है, लेकिन फिर भी यहां कुछ ऐसा है जिससे न तो पर्यटक और न ही मछुआरे इस द्वीप पर जाने की हिम्मत जुटा पाते हैं।

 

 

प्रशांत महासागर के नॉर्थ सेंटिनल आइलैंड पर एक  रहस्यमय आदिम जनजाति ‘बसेरा’ रहती है। ऐसा माना जाता है कि इस द्वीप पर रहने वाली इस आदमखोर जनजाति का अस्तित्व 60,000 वर्ष पुराना है। इन द्वीप के वासियों के निकट जाने का अर्थ है, अपनी जान जोखिम में डालना। किसी भी प्रकार के बाहरी हस्तक्षेप को ये लोग बर्दाश्त नहीं करते, इसलिए इनके बारे में कोई भी पुख्ता जानकारी, मसलन इनकी संख्या, इनका रिवाज, इनकी भाषा, इनका रहन-सहन, आदि कैसे हैं, क्या हैं, किसी को इस बात की भनक तक नहीं लगती है।

 

 

वेटिकन संग्राहालय

 

वेटिकन का यह संग्राहालय अत्यंत ही गुप्त है। यहां आठवीं शताब्दी के दस्तावेज एवं अन्य गुप्त वस्तुएं  गहरे अंधकार में एक गोदाम में सुरक्षित रखी गईं हैं, ताकि इन गुप्त दस्तावेजों तक सभी की पहुंच नहीं हो सके।

 

 

वेटिकन के संग्राहालय के बारें में कहा जाता है कि आज भी यहां कई प्रकार के लोगो की आत्माएं भटकती है।

 

सांपों का द्वीप


Advertisement
 

 

इस आईलैंड पर दुनिया के सबसे ज्‍यादा सांप रहते हैं। इतने कि इंसान का वहां रहना तो दूर, जाना तक मना है। यह द्वीप ब्राजील में है। ‘इलाहा दा क्यूइमादा’ नामक इस द्वीप को स्नेकआइलैंड भी कहा जाता है। यहां सांपों की 4000 प्रजातियां मौजूद हैं। बताते हैं कि जो कोई वहां गया है वह जिंदा वापस नहीं लौट पाया है। इसके चलते ब्राजील सरकार ने चेतावनी जारी करते हुए इस द्वीप पर जाने पर ही प्रतिबंध लगा दिया है।

 

मजहगोरए

 

 

यह पूरा का पूरा क़स्बा ही अजीब रहस्यमयी है। यह बश्कोर्तोस्तान गणराज्य, रूस में स्थित है। बताया जाता है कि यहां रूस या तो कोई न्यूक्लियर योजना चला रहा है या फिर कोई युद्ध बंकर बनाया गया है। यह भी हो सकता है की यहां पर रूस का खजाना हो। बेहद खास होने के कारण इस जगह की सुरक्षा स्वयं रूसी सरकार करती है। यह आम लोगों के लिए प्रतिबंधित जगहों में से एक है।

 

डेथ वैली

 

 

डेथ वैली पूर्वी कैलिफोर्निया में स्थित एक रेगिस्तान है। यह उत्तरी अमेरिका के सबसे निचले, शुष्क, तथा गरम स्थानों में से एक है। यहां पर तापमान 130 डिग्री तक पहुंचना सामान्य बात है। ऊपर से यहां पानी का नामो-निशां देखने को नहीं मिलता। डेथ वैली के खिसकते पत्थरों का रहस्य आज भी विज्ञान के लिए अबूझ पहेली बना हुआ है। इन सब की वजह से इंसान के लिए इस जगह पर जिंदा रह पाना नामुमकिन है।

 

फोर्ट नॉक्स

 

 

केंटकी स्थित फोर्ट नॉक्स अमेरिका की एक सैनिक पोस्ट है। यहीं पर स्थित है बुलियन डिपॉजिटरी, जहां पर अमेरिका का सारा सरकारी खजाना सोने के रूप में रखा हुआ है। इस जगह के बारे में कहा जाता है कि अभी तक धरती से जितना भी सोना निकला होगा, उसका लगभग 5 प्रतिशत सोना यहां मौजूद है।  ऐसा माना जाता है कि यहां की सुरक्षा में सेंध लगाना नामुमकिन है। मुख्य इमारत की  4 फुट मोटी ग्रेनाइट से बनी दीवारें,किसी भी  परमाणु बम का हमला झेलने में सक्षम है। 22 टन के दरवाजे से अगर अंदर भी घुस गए तो वॉल्ट तक पहुंचना असम्भव है, क्यूंकि यहां पर एक इंच भी जगह ऐसी नहीं है कैमरे में कैद न होती हो।

 

वूमेरा

 

 

वूमेरा क्षेत्र एक ऑस्ट्रेलियाई सैन्य परीक्षण रेंज है जो 122,000 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। यहां की मिटटी में भारी मात्र में सोना, लौह अयस्क और ओपल का भंडार है। इसके अलावा यह युद्ध सामग्री का एक बड़ा भंडार है। यह जगह लगभग इंग्लैंड के बराबर है जिसकी सुरक्षा ऑस्ट्रेलियाई सरकार करती है।

 

जिआंग्सू राष्ट्रीय सुरक्षा शिक्षा संग्रहालय

 

 

चीन के इस नेशनल स्पा म्यूजियम को देखकर आपको जेम्स बांड की जासूसी फिल्में याद आ जाएंगी। अगर आप कभी इस संग्रहालय में जा सके तो आप बहुत सारे जासूसी गैजेट्स जैसे लिपस्टिक गन, नक़्शे, आदि देख पाएंगे जो युद्ध में काम आते हैं। हालांकि, यहां जाने के लिए सिर्फ चीनी व्यक्तियों को अनुमति मिलती है और किसी भी विदेशी के लिए यह संग्रहालय बंद है।

Advertisement


  • Advertisement