Advertisement

ग्रीनलैंड में तैर रहा है सैकड़ों फीट के आकार का खतरनाक हिमखंड, पूरे इलाके पर डूबने का खतरा

10:00 am 19 Jul, 2018

Advertisement

प्रकृति को समझ पाना हर किसी के लिए मुश्किल है। वैज्ञानिक पर लगातार काम करते हैं, लेकिन कई बार उनके लिए भी इसे समझना बेहद मुश्किल हो जाता है। कब क्या होगा, कहना नामुमकिन सा है, क्योंकि प्रकृति रहस्यों से भरी हुई है। फिलहाल, ग्रीनलैंड में संकट की स्थिति बन गई है, वह भी एक हिमखंड को लेकर। आपदा अक्सर बता कर नहीं आती, लेकिन यह उस हिमखंड से जुड़ा मामला है, जो जब तक जमी हुई है, सब ठीक है लेकिन पिघलते ही मातम छा सकता है।

 

ग्रीनलैंड में छा सकती है तबाही।

 

 

हॉलीवुड की फिल्मों में अक्सर ऐसे वाकये देखे जाते हैं जब जलप्रवाह में लोग बह जाते हैं। उदाहरण के तौर पर टाइटनिक को देखें तो उसमें जहाज़ एक बर्फ़ की चट्टान से टकरा कर क्षतिग्रस्त हो गया था। कुछ ऐसा ही ग्रीनलैंड के एक गांव में होने के आसार बन रहे हैं। वहां 300 फीट का ग्लेशियर का टुकड़ा पहुंचा है, जो सुनामी लाने को पर्याप्त है।

 

डूब सकता है ग्रीनलैंड का गांव।


Advertisement
 

बता दें कि ग्रीनलैंड के इस गांव का नाम इन्नरसूट है, जहां लगभग 170 लोग रहते हैं। हालांकि, हिमखंड के भय से लोग अब गांव छोड़कर जा रहे हैं। असल में ये हिमखंड पिघला तो देश भर में इसका प्रभाव होगा और गांव तो खैर समाप्त ही हो जाएगा। लिहाजा लोगों में दहशत का माहौल बन रहा है।

 

 

जानकारों की मानें तो ग्लेशियर का ये टुकड़ा 10 मिलियन टन का है। वैसे तो गांव के लोगों के ग्लेशियर कोई नई बात नहीं है, लेकिन इतना बड़ा बर्फ़ का पहाड़ सबको भयभीत कर दे रहा है। यही कारण है कि लगभग 33 लोग गांव छोड़ चुके हैं। विशेषज्ञ भी इस बात को दोहरा रहे हैं कि बर्फ़ का टुकड़ा हवा और समुद्र के ज्वार से बह कर आगे जा सकता है और बेहद नुकसान पहुंचा सकता है।

 

वहीं, इसको पिघलने के आसार से भी इनकार नहीं किया जा सकता। ग्लोबलवार्मिंग जो सिर पर सवार है!

Advertisement


  • Advertisement