सूडान में फंसे भारतीयों को एयरलिफ्ट कराने रवाना हुए जनरल वीके सिंह

author image
9:31 am 14 Jul, 2016

युद्ध प्रभावित सूडान में फंसे करीब 600 भारतीयों को एयरलिफ्ट कराने के लिए भारत सरकार ने ‘ऑपरेशन संकट मोचन’ शुरू किया है। इस ऑपरेशन का नेतृत्व विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह कर रहे हैं।

गुरुवार की सुबह दक्षिण सूडान के शहर जूबा के लिए भारतीय वायु सेना के दो सी-17 सैन्य परिवहन विमान भेज दिए गए।

सूडान के लिए रवाना होने से पहले जनरल वीके सिंह ने आज सुबह ट्वीट कर लोगों के शुभकामनाओं के लिए आभार जताया। ट्वीट के माध्यम से विदेश राज्यमंत्री ने कहा कि वह हर भारतीय को देश वापस लाने की कोशिश करेंगे।

इससे पहले बुधवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि ऑपरेशन संकट मोचन का नेतृत्व विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह करने जा रहे हैं।


गौरतलब है कि पूर्व सेना प्रमुख जनरल सिंह ने पिछले साल युद्धग्रस्त यमन से भारतीयों और विदेशी नागरिकों के एयरलिफ्ट अभियान का नेतृत्व किया था।

दक्षिण सूडान के जूबा शहर में सैनिकों और विद्रोहियों के बीच संघर्ष जारी है। बताया गया है कि यहां करीब 600 भारतीय फंसे हैं, जिनमें 450 के करीब जूबा में हैं, वहीं 150 यहां से बाहर हैं। अब तक करीब 300 भारतीयों ने वहां से निकाले जाने के लिए भारतीय दूतावास में रजिस्ट्रेशन करवाया है।

विदेश मंत्रालय ने अपने एक आधिकारिक बयान में कहा है कि वैध भारतीय यात्रा दस्तावेज वाले भारतीय नागरिक अधिकतम पांच किलोग्राम केबिन लगेज के साथ यात्रा कर सकते हैं।

महिलाओं और बच्चों को विमान में प्राथमिकता दी जाएगी।

इससे पहले अभिनेता अक्षय कुमार ने दक्षिण सूडान में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए सुषमा स्वराज को ट्वीट किया था।

Discussions



TY News