कश्मीर: जनरल वीके सिंह ने पाकिस्तान को दिया करारा जवाब, कश्मीरियों से की यह अपील

author image
7:53 pm 17 Jul, 2016


कश्मीर में सेना के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के कंमाडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर घाटी में अब भी तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है और राज्य में कर्फ्यू जारी है।

इसी मसले पर कश्‍मीर में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति पर विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने केंद्र और राज्य सरकार पर ठीकरा फोड़ने वालों पर तीखा हमला बोला और बुरहान को ‘शहीद’ बताने वालों को देशद्रोही करार दिया।

Burhan supporter

जनरल वीके सिंह ने बुरहान वानी के समर्थकों से पूछा: “जब कश्मीर में बाढ़ आई थी, बुरहान वानी ने कितने कश्मीरियों को बचाया था? जिस भारतीय सेना ने डूबते हुए कश्मीर को एक नयी साँस दी थी, बुरहान वानी उसी भारतीय सेना के विरुद्ध हमलों के लिए युवाओं को उकसाता था। क्या ये हमारे शहीद हैं?”

आगे वीके सिंह ने भारतीय सेना द्वारा बुरहान पर की गई कार्रवाई को सही ठहराते हुए कहा: ‘भारतीय सेना ने उसे मार गिराया और हमें गर्व है अपनी सेना पर।’

वीके सिंह ने हिंसा की जंजीरों से जकड़े कश्मीर के लोगों से, भीड़ से बाहर निकलकर भारत की ‘महागाथा’ का हिस्‍सा बनने का आह्वान किया।

“हमारी सहायता करिए कि हम आपकी सहायता कर सकें। सम्पूर्ण विश्व भारत का लोहा मान रहा है, और जानता है कि भविष्य में भारत का अति विशेष स्थान है। क्या आप इस महागाथा का भाग बनेंगें? मेरी विनती है- भीड़ से निकलिए, अपना भविष्य स्वयं निर्धारित करिए।”


पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे को लेकर आए दिन विवादित बयान देता रहा है, जिस पर उसे हर बार मुंह की खानी पड़ी है। कश्मीर को लेकर भी वीके सिंह ने कड़े दो टुक शब्दों में पाकिस्तान को चेताया:

“कश्मीर तो हमारा ही रहेगा। 1947 से इस विचार में कोई परिवर्तन नहीं आया और न ही आएगा। 2004 में हमारे प्रधानमंत्री ने कहा था कि भारत की सीमाएँ परिवर्तित नहीं होंगी, आवत जावत के लिए सुविधा अवश्य दी जा सकती है। इस तथ्य को जितनी शीघ्रतापूर्वक स्वीकार करेंगे, उतना सभी के लिए अच्छा होगा।”

वीके सिंह ने कहा कि सेना की आलोचना करने वाले बहुत से लोग कश्मीर में जनमत संग्रह नहीं कराने के लिए भारत को जिम्मेदार मानते हैं, लेकिन भारत चाहकर भी कश्मीर पर जनमत नहीं करा सकता है।

उन्होंने बताया कि इसके लिए सबसे पहले यूएन कन्वेंशन के अनुसार पाकिस्तान द्वारा गुलाम बनाए कश्मीर से अपनी सेना हटाना पहला चरण है, लेकिन लोग इस बात को नहीं जानते और केवल कश्मीरियों को गुमराह कर रहे हैं।

Kashmir conflict

Popular on the Web

Discussions