क्या ‘तीन तलाक’ की प्रथा को खत्म कर देना चाहिए?

5:22 pm 14 Oct, 2016


तलाक, तलाक, तलाक। किसी भी शादीशुदा मुस्लिम महिला के लिए इन शब्दों का मतलब बहुत बड़ा है, जो उसकी शादीशुदा जिंदगी को पल भर में खत्म कर सकता है। अब सुप्रीम कोर्ट के पूछने पर केंद्र सरकार ने यह साफ कर दिया है कि वह इस प्रथा के खिलाफ है और केन्द्र सरकार इसे जारी रखने के पक्ष में नहीं है। सरकार का कहना है कि उसका यह कदम देश में समानता और मुस्लिम महिलाओं को उनके संवैधानिक अधिकार दिलाने के लिए है। क्या तीन तलाक की इस प्रथा को खत्म कर देना चाहिए? आपको क्या लगता है?

Discussions