अगर आप या आपका कोई दोस्त पहाड़ी है तो आप इन बातों से ज़रूर वाकिफ होंगे।

10:37 am 3 Oct, 2015


भारत कई संस्कृतियाँ और विविध परम्पराओं की धरती है। ऐसी ही एक संस्कृति है, देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड की। एक ऐसा राज्य, जो अपनी खूबसूरती के लिए पूरी दुनिया में विख्यात है। भारत के हर राज्य की अलग पहचान है। और जब हम भ्रमण पर निकलते हैं तो थोड़ी ही दूरी पर हमें अलग-अलग परम्पराओं, रीति-रिवाजों के बारे मे पता चलता है। अगर आप उत्तराखंड से हैंं या आपका कोई परिजन यहां की शीतल जलवायु, बिखरी हरियाली और खूबसूरत पहाड़ियों से ताल्लुक रखता है, तो हम आपको यहाँ कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जिनसे आप भलीभांति वाकिफ होंगे।

1. यू. के. यानि की उत्तराखंड!

यू. के., आहाँ! कोई ग़लतफहमी मत पालिए। यहाँ यू. के. का मतलब यूनाइटेड किंगडम से नहीं, बल्कि उत्तराखंड से है, जिसे केवल एक पहाड़ी ही समझ सकता है।

2. पहाड़ों की मिठाई, बाल मिठाई

बाल मिठाई बोले तो पहाड़ों की चॉकलेट वो भी शुद्ध देसी घी की बनी हुई। चॉकलेट अपनी जगह और यहाँ की बाल मिठाई अपनी जगह, कोई मेल ही नहीं।

3. पहाड़ी शब्द जो पहाड़ी ही समझे

एक पहाड़ी ही समझ सकता है कि ‘दाज्यू और भौजी’ का मतलब भैय्या और भाभी से है, और ‘ओइजा’ का मतलब, हे भगवान!

pahadi language

memecreator

4. उत्तराखंड के स्वादिष्ट व्यंजन

आलू के गुटके, उसके ऊपर से हरी चटनी। काले चने की सब्जी प्याज डाल के। गाढ़ा दही चीनी डला हुआ। ऐसे ऐसे ख़ास व्यंजन कि बस मुंह में पानी आ जाए और आप उंगलियां चाटते रह जाएं। और वहां का ख़ास फल, काफल जो कि इतना लाजवाब कि इमली को भी पीछे छोड दे।

5. मुख्य परिधान

पिछौड़ा, सरल भाषा में बताए तो एक ऐसा पीला दुपट्टा, जिसमें लाल रंग की गोलाकार बिंदियाँ बनी होती है। शुभ अवसरों पर पहाड़ी महिलाएं इस ओढ़नी को पहनती है।

6. अप्रतिम लोकगीत

उत्तराखंड का चाहे गढ़वाल हो या कुमाऊ, आप कभी न कभी तो इस पहाड़ी लोकप्रिय पारंपरिक गीत ‘बेडू पाको बारोमासों’ की थाप पर ज़रूर नाचे होंगे।

Discussions