‘बॉर्डर’ के असली हीरो सूबेदार रत्न सिंह का देहांत, पाकिस्तान को चटाई थी धूल

author image
1:07 pm 11 Aug, 2016


1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में नायक रहे सरदार सूबेदार रत्न सिंह का बुधवार को निधन हो गया। वह 92 साल के थे। उनके निधन की खबर सुनकर समस्त धार्मिक,राजनीतिक और सामाजिक संगठन के नेताओं के साथ-साथ बॉलीवुड जगत भी शोकाकुल है।

वर्ष 1971 के युद्ध में पाकिस्तान को भारत के हाथों करारी शिकस्त मिली थी। तब सूबेदार रत्न सिंह राजस्थान में लोंगोंवाल पोस्ट पर तैनात थे। हालात ऐसे थे कि पाकिस्तानी सेना के 45 टैंकों और बटालियन के 2 हजार से अधिक सैनिकों का सामना सूबेदार रत्न सिंह और 80 भारतीय सैनिकों के साथ था। इस युद्ध में भारतीय सैनिकों ने अद्वितीय साहस का परिचय देते हुए पाकिस्तानी सैनिकों को घुटने टेकने पर विवश कर दिया था।

amarujala

amarujala


बाद में सूबेदार रत्न सिंह और उनके साथी बहादुर सैनिकों के साहस को दर्शाती बॉर्डर फिल्म का निर्माण किया गया था। फिल्म अभिनेता पुनीत इस्सर ने सूबेदार रत्न सिंह का किरदार बखूबी निभाया था।

इस युद्ध में सूबेदार रत्न सिंह और अन्य भारतीय सैनिकों की अगुवाई ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह ने किया था। सैनिकों ने पाकिस्तान सेना का बड़ी बहादुरी से मुकाबला किया था। इसी बहादुरी की वजह से तत्कालीन राष्ट्रपति वी.वी गिरी ने सूबेदार रत्न सिंह को वीर चक्र से सम्मानित किया था।

Discussions



TY News