मदर टेरेसा को संत की उपाधि, वेटिकन में पोप फ्रांसिस ने किया एेलान

author image
5:44 pm 4 Sep, 2016

मदर टेरेसा को संत की उपाधि दे दी गई है। वेटिकन सिटी में पोप फ्रांसिस ने मदर टेरेसा को संत की उपाधि से नवाजा।

वेटिकल सिटी में आयोजित इस कार्यक्रम के अवसर पर भारत सरकार में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल उपस्थित थे।

इस अवसर पर कोलकाता में मिशनरीज ऑफ चैरिटी से लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में संत टेरेसा के लिए प्रार्थना की जा रही है। संत घोषित होने के बाद मदर टेरेसा को ‘संत मदर टेरेसा ऑफ कोलकाता’ के नाम से जाना जाएगा।

इससे पहले 19 अक्टूबर 2003 को पोप जॉन पॉल II ने उन्हें मरणोपरांत ‘धन्य’ घोषित किया था। कोलकाता को अपना कार्यक्षेत्र बनाने वालीं मदर टेरेसा का पूरा जीवन दीन-गरीबों के लिए समर्पित था।

माना जा रहा है कि मदर टेरेसा की लोकप्रियता की वजह से इस समारोह का एक विशेष महत्व था। मिशनरीज ऑफ चैरिटी की सुपीरियर जनरल सिस्टर मेरी प्रेमा के नेतृत्व में देश के विभिन्न हिस्सों से आई 40 से 50 ननों का एक समूह भी इस समारोह के दौरान मौजूद रहा।

कोलकाता के आर्कबिशप थॉमस डीसूजा के अलावा भारत से 45 बिशप इस समारोह के लिए वेटिकन में रहे। इसी साल मार्च महीने में पोप फ्रांसिस ने मदर टेरेसा को संत का दर्जा देने की घोषणा की थी।

twitter

twitter

इस बीच, ओडीशा की राजधानी भुवनेश्वर में एक महत्वपूर्ण सड़क का नाम मदर टेरेसा के नाम पर रखा गया है।

संयोग से यह फैसला वेटिकन में मदर टेरेसा को संत की उपाधि दिए जाने के समारोह के साथ हुआ। अब सत्यनगर और कटक-पुरी राजमार्ग को जोड़ने वाला मार्ग संत मदर टेरेसा मार्ग के नाम से जाना जाएगा।

Discussions



TY News