ये हैं भारत के 8 कुख्यात रेड लाइट क्षेत्र।

author image
12:56 pm 1 Oct, 2015

वेश्यावृत्ति दुनिया के सबसे पुराने धंधों में से एक है। अंग्रेजी से लेकर तमाम अन्य भाषाओं के साहित्यकारों ने अपनी किताबों में वेश्यावृत्ति का जिक्र किया है। यही नहीं, भारत के साहित्यकारों ने भी वारंगनाओं की कथाओं को अपने साहित्य में खूब स्थान दिया है। कुल मिलाकर वेश्यावृत्ति एक कड़वी सच्चाई है, जो न सिर्फ विकासशील देशों में, बल्कि विकसित देशों में भी धड़ल्ले से चल रही है। इस लेख जरिए हम आपको देश के उन रेड लाइट क्षेत्रों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपनी कई बदनाम कहानियों की वजह से कुख्यात हैं।

1. मीरागंज, इलाहाबाद

इलाहाबाद और वेश्यावृत्ति। आपको यकीन नहीं हो रहा होगा। संगम के किनारे बसे धार्मिक नगरी इलाहाबाद में मीरागंज नामक इलाका वेश्यावृत्ति के लिए बदनाम है। यह इलाका खतरनाक भी है। इस इलाके में जिस्म के सौदागर छोटी-छोटी बच्चियों को बेच जाते हैं और उन्हें वेश्यावृत्ति की आग में झोंक दिया जाता है।

2. चतुर्भुजस्थान, मुजफ्फरपुर

बिहार का मुजफ्फरपुर शहर यूं तो मेट्रोपोलिटन शहरों के मुकाबले छोटा है, लेकिन यहां का चतुर्भुजस्थान वेश्यावृत्ति के लिए कुख्यात है। यह शहर बिहार का चौथा सबसे बड़ा शहर है। कहा जाता है कि चतुर्भुजस्थान के इर्द-गिर्द कई छोटे-बड़े वेश्यावृत्ति के ठिकाने हैं, जहां यह कारोबार फलता-फूलता है।

3. शिवदासपुर, वाराणसी

वाराणसी तवायफ संस्कृति के लिए कुख्यात रहा है। यहां वेश्यावृत्ति के कई छोटे-बडे ठिकाने सदियों से चल रहे हैं। शहर का शिवदासपुर इलाका वाराणसी रेलवे स्टेशन से सिर्फ 10 मिनट की दूरी पर है और यह उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा रेड लाइट क्षेत्र है, जहां जिस्म का सौदा होता है। यहां बच्चियों को जिस्म के सौदागरों से बचाने के लिए एक संस्थान कार्यरत है। नाम है गुड़िया। इस एनजीओ का काम उल्लेखनीय है।

4. गंगा जमुना, नागपुर

गंगा जमुना महाराष्ट्र का एक कुख्यात रेड लाइट इलाका है। नाम से लग रहा होगा कि यह इलाका बेहद शांत और सुरम्य होगा। लेकिन है इसके ठीक उलट। शहर का यह गंगा जमुना इलाका न केवल अवैध वेश्यावृत्ति के लिए कुख्यात है, बल्कि यहां अन्य आपराधिक गतिविधियां भी धड़ल्ले से होती हैं।

5. बुधवार पेठ, पुणे

मराठी में पेठ का तात्पर्य बाजार से होता है। पुणे में अगर आपको इलेक्ट्रानिक्स, किताबें या इससे जुड़ी हुई कुछ अन्य चीजें खरीदनी हो तो लोग आपको बुधवार पेठ का नाम सुझाएंगे। खरीदारी के लिहाज से यह व्यस्ततम इलाका है। यहां भगवान गणपति का एक प्रसिद्ध मंदिर भी है। और यहीं वेश्यावृत्ति का अड्डा भी। संभवतः इसके हाईटेक सिटी होने की एक वजह यह भी हो सकती है।

6. कमाठीपुरा, मुम्बई।

मुम्बई का कमाठीपुरा एक बेहद खतरनाक इलाका है। यहां एशिया की दूसरी सबसे बड़ी जिस्म की मंडी लगती है। शहर के इस इलाके में वेश्यावृत्ति तो होती है, जुर्म भी पलता है। यह मुम्बई का एक ऐसा इलाका है, जहां जुर्म का औसत कभी कम नहीं होता, बढ़ता जरूर है।

7. जी बी रोड, दिल्ली

दिल्ली का जी बी रोड इलाका एक भरा-पुरा बाजार है। इस इलाके में मौजूद बहुमंजिली इमारतों में नीचे व्यावसायिक गतिविधियां होती हैं, तो ऊपरी तल्लों पर जिस्म खरीदे-बेचे जाते हैं। जी बी रोड की यह बदनाम बस्ती, छोटी बच्चियों की खरीद-बिक्री के लिए कुख्यात है।

8. सोनागाछी, कोलकाता।

यह इलाका एशिया का सबसे बड़ा रेड लाइट क्षेत्र है। उत्तर कोलकाता में हुगली नदी के किनारे बसे इस क्षेत्र में जुर्म, अपराध और जिस्म की खरीद-फरोख्त का धंधा साथ-साथ चलता है। यह क्षेत्र अपनी तवायफ संस्कृति को लेकर भी कुख्यात है। यह संभवत एशिया का सबसे पुराना रेड लाइट क्षेत्र है।

Discussions


TY News