बीजेपी ने सार्वजानिक की प्रधानमंत्री मोदी की BA और MA की डिग्रियां

author image
4:54 pm 9 May, 2016


प्रधानमंत्री मोदी के डिग्री विवाद को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को एक सांझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बीए (BA) और एमए (MA) की डिग्रियां सार्वजनिक की गई। दोनों ने कहा कि मोदी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और गुजरात यूनिवर्सिटी से पॉलिटिकल साइंस में एम.ए. की डिग्री हासिल की है।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोशल मीडिया के जरिए पीएम की डिग्री पर सवाल उठाये थे। इसी के जवाब में बीजेपी ने पीएम मोदी की शैक्षणिक पात्रता के लिए यह प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की। जेटली ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा-

“1978 में पीएम ने बाहरी छात्र के तौर पर डीयू से ग्रैजुएशन किया और उसके बाद गुजरात यूनिवर्सिटी से एमए किया। एक कठिन स्थिति के परिवार से निकले व्यक्ति का सामाजिक काम करते हुए डीयू से बीए और गुजरात यूनिवर्सिटी से एमए करना बड़ी बात है। आम आदमी की राजनीति करने वाली पार्टी को इसकी प्रशंसा करनी चाहिए थी। बिना किसी तथ्य की जांच किए वे सार्वजनिक जीवन को सबसे निचले स्तर पर ले आए। आप को छोड़कर और कोई पार्टी नहीं है जिसके लीडर पर फर्जी डिग्री का मामला चल रहा हो।”


ये है पूरा मामला

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक आरटीआई जांच में पीएम मोदी की शिक्षा का विवरण मांगा था। केंद्रीय सूचना आयोग ने दिल्ली यूनिवर्सिटी और गुजरात यूनिवर्सिटी को आदेश कर ये जानकारी केजरीवाल को देने को कही थी।

जिसके जवाब में गुजरात यूनिवर्सिटी ने बताया कि मोदी को एमए में 62.3% मार्क्स हासिल हुए थे। लेकिन दिल्ली यूनिवर्सिटी ने मोदी की डिग्री को लेकर कोई जानकारी साझा नहीं की। जिसके बाद केजरीवाल ने दिल्ली यूनिवर्सिटी को पत्र लिख, पीएम मोदी की डिग्री की जानकारी को वेबसाइट पर सार्वजानिक करने को कहा था।

Popular on the Web

Discussions