आतंकियों के निशाने पर हैं PM मोदी, 15 अगस्त को सबसे अधिक खतरा

author image
10:45 am 29 Jul, 2016


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आतंकवादियों के निशाने पर हैं। अगले 15 अगस्त को उनकी जान को सबसे अधिक खतरा हो सकता है। इस संबंध में सुरक्षा एजेन्सियों ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को आगाह किया है।

इस रिपोर्ट में एक खुफिया रपट के हवाले से दावा किया गया है कि 15 अगस्त को आतंकवादी संगठन किसी भी हद तक जा सकते हैं। यही वजह है कि सुरक्षा एजेन्सियों को चौकस रहने के लिए कहा गया है।

लाल किले की प्राचीर पर प्रधानमंत्री मोदी के मंच को बुलेटप्रूफ शीशे से ढकने के लिए कहा गया है। गत वर्ष प्रधानमंत्री मोदी ने बुलेट प्रूफ मंच की बजाय खुले मंच से देश को संबोधित किया था।

हाल के दिनों में देश में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की बढ़ी गतिविधियों और कश्मीर में लगातार जारी तनाव को देखते हुए सतर्कता बरती जा रही है। आशंका इस बात की भी है कि आतंकवादी प्रधानमंत्री का सुरक्षा घेरा तोड़ने की कोशिश कर सकते हैं।

narendramodi

narendramodi


गौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी की हत्या के बाद स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले से भाषण देने की परम्परा का पालन किया जा रहा था, लेकिन वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री मोदी ने यह परम्परा से अलग हटते हुए खुले मंच से जनसमूह को संबोधित किया था।

इस्लामिक स्टेट से लेकर अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन जैसे आतंकी संगठन पहले भी प्रधानमंत्री मोदी पर हमले की योजनाएं बनाते रहे हैं।

Popular on the Web

Discussions