हमारे 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा, पाकिस्‍तान को दुनिया से कर देंगे अलग-थलग: PM मोदी

10:03 pm 24 Sep, 2016


उरी में हुए आतंकी हमले के बाद हर कोई प्रधानमंत्री मोदी की प्रतिक्रिया जानना चाहता था। पीएम मोदी की चुप्पी किसी तूफ़ान के आने से पहले की खामोशी साबित हुई है। उन्होंने पाकिस्तान पर तगड़ा हमला बोला।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केरल के कोझीकोड में आयोजित भारतीय जनता पार्टी के सम्मेलन में जम्मू-कश्मीर के उरी में आतंकवादी हमले के बाद पहली बार पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा।

modi

प्रधानमंत्री मोदी ने उरी हमले के बाद पहली बार जनता को सम्बोधित करते हुए, पाकिस्तान को कड़े शब्दों में सन्देश दिया कि एक देश पूरी दुनिया में आतंकवाद फैला रहा है। पीएम मोदी ने कहा “एशिया के सभी देश, 21वीं सदी एशिया की हो, इसके लिए प्रयास कर रहे हैं, लेकिन एक देश एशिया में ऐसा है जो 21वीं सदी एशिया की न बने, पूरा एशिया रक्तरंजित हो, पूरा एशिया आतंकवाद की चपेट में आ जाए, उसका षडयंत्र करने में लगा हुआ है।”

उन्होंने कहा कि सिर्फ एक ही देश दुनिया भर में आतंकवाद को एक्सपोर्ट करने में लगा हुआ है।

दुनिया में जब भी कोई आतंकवादी वारदात की घटना सामने आती है, तो कुछ दिन बाद ही पता चलता है कि या तो आतंकवादी इस देश से गया था या आतंकवादी घटना करने के बाद ओसामा की तरह वहां बसा हुआ था।

modi

पाकिस्तान जहां आतंकवाद का निर्यातक देश है, वहीं भारत दुनिया को सॉफ्टरवेयर देता हैं।

आए दिन पाकिस्तान के कश्मीर को लेकर बेतुके बयान पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जो देश बलूचिस्तान, गिलगित, बाल्टिस्तान को संभालने में असमर्थ है वह कश्मीर का राग अलाप रहा है। पड़ोस के हुक्मरान आतंकवादी आकाओं के लिखे हुए भाषण पढ़ रहे हैं। ऐसे लोगों से दुनिया को कोई अपेक्षा नहीं है।

modi

उरी हमले पर पीएम ने कहा कि भारत 18 जवानों के बलिदान को भूलेगा नहीं। भारत कभी आतंकवाद के सामने न तो झुका है और न कभी झुकेगा।

“जम्मू-कश्मीर में हमारे पड़ोसी देश से आए आतंकियों ने हमारे 18 जवानों को शहीद कर दिया। उनका यह बलिदान बेकार नहीं जाएगा। पूरा देश इससे गुस्से में है। आतंकी सुन लें कि यह देश इस बात को भूलने वाला नहीं है और न ही माफ करने वाला है।”

martyr

पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारत, पाकिस्तान को पूरी दुनिया में अलग-थलग कर देगा। भारत पूरे विश्व में पड़ोसी देश को अकेला रहने पर मजबूर कर देगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि लड़ाई लड़नी है तो गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा पर लड़ाई लड़े। देखते हैं पहले कौन इन कमियों को दूर करता है। वो दिन दूर नहीं है जब पाकिस्‍तान की आवाम वहां के नेताओं और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने को खुद आगे आएगी।

सेना के शौर्य और बलिदान को सलाम करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश को बचाने का महान कार्य हमारी सेना ने किया है। जवानों की शहादत कभी भुलाई नहीं जा सकती। हमारी सेना जागती रही, ताकि हम चैन से सो सकें। हमारी जांबाज सेना ने पड़ोसी देश के मंसूबों को नाकाम कर फिदायीन हमलावरों को मौत के घाट उतार दिया। पिछले कुछ महीनों में सेना ने घुसपैठ की 17 कोशिशों को नाकाम किया और 110 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया।

Discussions


TY News

    Recent Posts

    More Stories For You