बिहार में जहरीली शराब पीने से 13 लोगों की मौत, प्रशासन का इन्कार

author image
3:21 pm 17 Aug, 2016


बिहार में भले ही शराब पर प्रतिबंध हो, लेकिन यहां खुलेआम शराब बिकने की खबर आम रही है। अब यहां के गोपालगंज जिले में जहरीली शराब पीने से कम से कम 13 लोगों के मारे जाने की खबर है। हालांकि, प्रशासन ने इस बात से इन्कार किया है कि इन मौतों की वजह से जहरीली शराब है।

मृतकों के परिजनों का दावा है कि मरने वाले लोगों ने जहरीली शराब पी थी। बिहार में शराबबंदी के बाद अवैध शराब से जुड़ा यह पहला बड़ा मामला बताया जा रहा है।

गोपालगंज के डीएम राहुल कुमार अब तक 10 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है। गोपालगंज के नोनियाटोला में 7 लोगों के मौत की खबर है।

इतनी बड़ी संख्या में होने वाली मौत की वजह पूछे जाने पर राहुल कुमार ने कहा कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने पर ही कुछ कहा जा सकता है। इस बीच, मामले की जांच के लिए जिला प्रशासन ने तीन टीमों का गठन किया है। मृतकों के रक्त के नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है।


वहीं, दूसरी तरफ गोपालगंज में छापा मारकर चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। यहां बड़ी मात्रा में अवैध शराब भी बरामद की गई है।

माना जा रहा है कि अगर ये मौतें जहरीली शराब के सेवन से हुईं हैं, तो यह वाकया मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए मुसीबतें ला सकता है। सरकार ने अप्रैल महीने में पूरे राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके साथ ही दावा किया गया था कि राज्य में शराब के निर्माण और बिक्री पर पूरी तरह रोक लग गई है।

बिहार में विपक्षी राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि सरकार की शराबबंदी के कारण अवैध शराब कारोबार धड़ल्ले से फल-फूल रहा है।

Popular on the Web

Discussions