पतंजलि का आंवला मुरब्बा मैन्युफैक्चरिंग डेट से पहले ही पहुंचा बाजार

author image
3:51 pm 8 Mar, 2016

बाबा रामदेव के पतंजलि के प्रोडक्ट्स पर कई बार सवाल उठते रहे हैं। ताज़ा मामला है बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि में बने आयुर्वेद आंवला मुरब्बे का है। इस प्रोडक्ट को लेकर जो खुलासा हुआ है, वह बेहद चौकाने वाला है।

दरअसल इस प्रॉडक्ट के डिब्बों पर मैन्युफैक्चरिंग तारीख 20 अक्टूबर 2016 लिखी हुई है, जो अभी आई भी नहीं है। वहीं एक्सपायरी डेट 19 अक्टूबर 2017 लिखी हुई है। यह बात फूड सेफ्टी ऐंड ड्रग ऐडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट (FSDA) द्वारा मारे गए छापे में सामने आई है।

इस पूरे खुलासे को लेकर उत्तर प्रदेश आयुर्वेद निदेशालय के ड्रग इंस्पेक्टर (हेडक्वॉर्टर) डॉ. शिव कुमार वर्मा का कहना है-

“प्रॉडक्ट के बारे में गलत सूचना देना, ड्रग और कॉस्मेटिक ऐक्ट के प्रावधानों का उल्लंघन है।”


लखनऊ के कल्याणपुर के नेहरू नगर में हाल ही में एक रिटेल शॉप पर छापा मारा गया। इस छापे में FSDA की टीम को पतंजलि आयुर्वेद द्वारा निर्मित मुरब्बे के डिब्बे मिले, जिस पर उत्पादन तिथि 20 अक्टूबर 2016 और एक्सपायरी तिथि 19 अक्टूबर 2017 अंकित थी। इसका खुलासा अधिवक्ता हेम चंद्र जोशी ने किया।

हेम चंद्र जोशी की शिकायत पर ही FSDA टीम द्वारा लखनऊ स्थित एक पतंजलि रिटेल पर छापा मारा गया, जिसके बाद कई प्रोडक्ट्स के सैंपल लिए गए, जिन्हें जांच के लिए लेबोरेटरी भेजा जाएगा।

वहीं इस पूरे मामले को लेकर लखनऊ के डीएम राजशेखर ने बताया-

“किसी भी आयुर्वेदिक औषधि में बैच नंबर और उत्पादन तारीख सही न लिखना या गलत जानकारी देना ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट 1940 का उल्लंघन है। यह उत्पाद पतंजलि आयुर्वेद, हरिद्वार में बनता है। इसलिए लाइसेंसिंग अधिकारी, निदेशक आयुर्वेद-उत्तराखंड को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा गया है।”

Discussions



TY News