आतंकियों के बच्चों को कॉलेजों में कोटा दे रहा है पाकिस्तान

author image
4:45 pm 13 Jul, 2016


पाकिस्तान जहां एक तरफ भारत से रिश्ते सुधारने की बात कहता है तो वहीं दूसरी ओर भारत के खिलाफ साजिश रचता है। एक बार फिर पाकिस्तान का दोहरा रवैया सामने आया है।

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के कॉलेजों में भारत विरोधी आतंकियों के बच्चों को कोटा मुहैया कराया जाएगा।

इन आतंकी संगठनों में हिजबुल मुजाहिदीन और कश्मीर के अलगाववादी शामिल हैं। यह कोटा पाकिस्तान में उन आतंकवादियों के बच्चों के लिए है, जो भारत के खिलाफ लड़ते हुए मारे गए।

इस ‘नापाक’ योजना को लागू कराने में हिजबुल मुजाहिदीन के सुप्रीम कमांडर सैयद सलाहुद्दीन का हाथ है।

syed

intoday


सलाहुद्दीन बच्चों को पाकिस्तान के मेडिकल, इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों में दाखिला दिलाता है। पाक खुफिया एजेंसी ISI भी इसमें मदद करती है।

साथ ही पाकिस्तान की एक योजना के तहत जिन भारत विरोधी कश्मीरी युवाओं के रिश्ते आतंकवादियों और अलगाववादियों से हैं, उनके लिए कॉलेजों में सीट आरक्षित की जाएगी।

भारतीय खुफिया सूत्रों के मुताबिक ऐसे बच्चों को पाकिस्तान में ग्रैजुएशन, पोस्ट ग्रैजुएशन, बीडीएस, इंजीनियरिंग, एमबीबीएस और अन्य सरकारी संस्थानों में दाखिला दिया जाता है।

इस कोटे को तीन श्रेणी में बांटा गया है; पहले उन आतंकवादियों के बच्चे, जिन्हें भारतीय सेना ने मार गिराया और जिन्हें पाकिस्तान शहीद कहता है। दूसरा एक्टिव मुजाहिद्दीन और तीसरी श्रेणी में अलगाववादियों के बच्चे शामिल हैं।

Popular on the Web

Discussions



  • Co-Partner
    Viral Stories

TY News