अप्रैल में हो सकता है भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध!

6:50 pm 29 Sep, 2016


प्रधानमंत्री मोदी ने जिस तरह खुले तौर पर पाकिस्तान को अलग-थलग कर देने की बात कही है, उसे देखते हुए पाकिस्तान को अंदेशा है कि भारत चुप नहीं बैठने वाला। पाकिस्तान मान रहा है कि भारत ने भले ही अभी युद्ध का ऐलान नहीं किया हो लेकिन युद्ध का खतरा बरकरार है।

भारत के पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर में अलग-थलग करने के प्रयास के बीच यह खतरा पाकिस्तान की मीडिया ने चेताया है। इस रिपोर्ट में पाकिस्तान के समाचार पत्र ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ के हवाले से लिखा गया है कि भारत ने भले ही रणनीतिक कारणों के कारण अभी युद्ध करने के निर्णय को टाल दिया हो, लेकिन अनुमान है कि युद्ध अप्रैल में हो सकता है।

अखबार ने लिखा है कि भारत की तरफ से अभी युद्ध का ऐलान न होने के पीछे का कारण आने वाली सर्दियां हैं, जिसमें जवानों को दिक्कतें आती है। इसके अलावा इस अवधि के दौरान भारतीय जवानों को जरूरी सामान जुटाने में भी सुविधा होगी।

वहीं ‘द नेशन’ का कहना है कि भारत अभी युद्ध न करे, लेकिन भारत पाकिस्तान के खिलाफ ऐसे लेज़र उपकरणों को प्रयोग में ला सकता है, जिससे पाकिस्तानी रक्षा और संचार उपकरणों को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। इस तरह के उपकरण किसी देश की सीमा में घुसे बिना लड़ाई का बड़ा हथियार साबित होते हैं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की नीतियों पर सवाल उठाते हुए पाक मीडिया का कहना है कि कश्मीर के मुद्दे पर नवाज शरीफ सरकार की नीति नाकाम साबित हो रही है। नवाज शरीफ की नीतियों से नाराज पाक मीडिया ने नवाज शरीफ को घेरते हुआ कहा है कि संयुक्तराष्ट्र में भारत ने पाकिस्तान पर एक के बाद एक तीखे वार किए, लेकिन प्रधानमंत्री और उनकी टीम इसका सही जवाब देने में नाकाम रही।

Discussions