सरकारी कर्मचारियों ने बर्बाद किया डेढ़ लाख लीटर पानी, रोक दी गई वेतन बढ़ोतरी

author image
1:03 pm 4 Sep, 2016


सरकारी कर्मचारियों ने डेढ़ लाख लीटर पानी बर्बाद कर दिया तो उनकी वेतन बढ़ोतरी रोक दी गई। यह वाकया हुआ है महाराष्ट्र में।

बताया गया है कि राज्य के सूखाग्रस्त जिले लातूर में नगर निगम के तीन कर्मचारियों को डेढ़ लाख लीटर पानी बर्बाद करने का दोषी पाया गया। इसके बाद यह कार्रवाई की गई है। इन अधिकारियों में एक क्लास-1 अधिकारी भी शामिल है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, लातूर नगर निगम के अध्यक्ष और जिलाधिकारी पांडुरंग पोले ने अपनी जांच में तीनों अधिकारी को दोषी पाया और उनपर कार्रवाई की। जांच के बाद पांडुरंग ने बताया कि इस पूरी जांच में क्लास-1 अधिकारी के साथ साथ दो अन्य कर्मचारी भी दोषी पाए गए हैं।


बताया गया है कि जितना पानी बर्बाद किया गया था, उससे हजारों लोगों की प्यास बुझाई जा सकती थी। माना जा रहा है कि लापरवाही के लिए कर्मचारियों पर हुई कार्रवाई के बाद एक कड़ा संदेश जाएगा।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र का यह इलाका पिछले कई सालों से सूखाग्रस्त है। यहां लगातार पानी की किल्लत चल रही है। पानी की कमी को देखते हुए केन्द्र सरकार ने पिछले दिनों यहां ट्रेन के जरिए पीने का पानी पहुंचाया था।

Popular on the Web

Discussions