बिस्कुट के डिब्बों में हो रही थी नवजात बच्चों की तस्करी, 8 गिरफ्तार

2:01 pm November 24, 2016


क्या एक नवजात बच्चे को बेचने से भी अधिक कोई घृणित कार्य हो सकता है? लेकिन शासन प्रशासन के तमाम कोशिशों के बावजूद बच्चों की तस्करी जैसे अपराध रुकने का नाम नही ले रहे हैं। ऐसी ही समाज को कलंकित करने वाले एक गिरोह का सीआइडी ने भंडाफोड़ किया है, जिसमें तस्कर बेहद शातिर तरीके से बच्चों की तस्करी कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल में पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जिसके सदस्य बिस्कुट के डिब्बों में नवजात बच्चों की तस्करी करते थे। तस्कर नवजात बच्चों को बिस्कुट ले जाने वाले डिब्बों में भर कर एक जगह से दूसरी जगह ले जाते थे।

mirror

इन नवजात बच्चों को बिस्कुट ले जाने वाले कंटेनर में भर कर थी तस्करी की तैयारी mirror

बीते सोमवार सीआइडी और पश्चिम बंगाल पुलिस की एक संयुक्त टीम ने  उत्तरी 24 परगना क्षेत्र के दो नामी संस्थाओं पर छापा मारकर इस मामले का खुलासा किया। इस टीम ने सुबोध मेमोरियल ट्रस्ट और सोहन नर्सिंग होम पर कार्रवाई की, जिसमें पता चला कि ये लोग बच्चों की तस्करी में पिछले 3 साल से लिप्त थे।


सीआइडी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इस गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीन नवजात शिशुओं को बिस्कुट के डिब्बों में बंद कर एक मेडिकल स्टोर में रखा गया था। उन बच्चों को छुड़ा लिया गया है।

प्राइवेट नर्सिंग होम की मालिक का नाम नजमा बीबी बताया गया है।

पुलिस का मानना है कि इस गिरोह ने अब तक करीब 25 बच्चों को बेचा है। हालांकि, अभी आकंड़े पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है। इसकी जांच चल रही है।

Facebook Discussions