अब छात्र पढेंगें ‘भारत माता की जय’ का पाठ, वाजपेयी की कविता भी पाठ्यपुस्तक में शामिल

author image
5:22 pm 10 May, 2016


इस वर्ष जून से शुरू होने वाले स्कूलों के सत्र में गुजरात की पाठ्यपुस्तकों में भारत माता, भारतीय संस्कृति और देशभक्ति को विशेष रूप से जगह दी जाएगी।

पाठ्यपुस्तकों में ‘भारत माता की जय’ के विचार पर, प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नज़रिए से रोशनी डाली जाएगी।

ग्यारवीं कक्षा की किताब के एक अध्याय में ‘भारत माता की जय’ पर प्रथम प्रधानमंत्री का पक्ष, नेहरू की आत्मकथा का हिस्सा है। इस पाठ का सार इस प्रकार है:

“प्रस्तुत लेख में अनपढ़ ग्रामीण लोग ‘भारत माता की जय’ का नारा तो लगाते हैं किंतु भारत माता के सच्चे स्वरूप तथा उनकी वात्सलता से अनजान हैं। उनकी इस अज्ञानता को लेखक के द्वारा दूर करके वास्तविकता से परिचित करने का प्रयास है।”


ग्यारहवीं कक्षा की किताब में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की एक कविता ‘कदम मिलाकर चलना होगा’ भी शामिल की गई है।

गुजरात स्टेट स्कूल पाठ्यपुस्तक मंडल ने कक्षा नौवीं और ग्यारहवीं की चार पाठ्यपुस्तकों में आरएसएस की शाखा में गाया जाने वाला गीत ‘मनुष्य तू बड़ा महान है’ को भी शामिल किया है।

Discussions





TY News