चेन्नई में बाढ़ प्रभावित मन्दिरों की सफाई कर रहे हैं मुसलमान

author image
2:20 pm 9 Dec, 2015

चेन्नई की भीषण बाढ़ से प्रभावित मन्दिरों की सफाई का जिम्मेदारी ली है मुस्लिम संगठन ‘जमात-ए-इस्लामी हिन्द’ ने। जी हां, इस संगठन के 50 सदस्य इन मन्दिरों की साफ-सफाई के लिए आगे आए हैं।

उनका यह काम यकीन दिलाता है कि हम पहले भारतीय हैं। बाद में भले ही हिन्दू या मुसलमान। दरअसल, इस नजीर से यह भी साबित हुआ है कि किसी को मदद पहुंचाने में मजहब या समुदाय आड़े नहीं आता।

c
चेन्नई में हुई मूसलाधार बारिश ने वहां के जनजीवन को पूरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया है। इस कठिन घड़ी में देश के हर कोने से मदद के लिए हाथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्ही में से एक ‘जमात-ए-इस्लामी हिन्द’ जो एक एनजीओ है, के 50 सदस्य मिलकर मस्जिदों के साथ ही मंदिरों की भी सफाई कर रहे हैं। पिछले दो दिनों में वे कोत्तूर्पुरम और सैदापेट के दो मंदिरों की सफाई कर चुके हैं।

t1

 


पीर मोहम्मद, जो इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर है और साथ ही जमात-ए-इस्लामी हिंद के छात्र शाखा सचिव हैं , कहते हैंः

“हमे लगता है की गंभीर रूप से बाढ़ के कारण प्रभावित हुए हिन्दू मन्दिरों में पूजा कर पाने में असमर्थ हैं। इसलिए हम यहां के मस्जिदों, मन्दिरों और क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की सफाई कर रहे हैं। आने वाले सप्ताह में, हम शहर के अन्य क्षेत्रों में भी इसी तरह के काम करेंगे। सफाई के बाद लोग बहुत खुश हुए और उन्होंने इस प्रक्रिया के दौरान हमारी मदद भी की।”

 

t2

Discussions



TY News