रात के अंधेरे में चमकेंगी गायों की सींग, हादसों पर लगेगी लगाम

author image
4:00 pm 25 Aug, 2016

मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले में सड़क पर खुले में घूमने वाली गायों और आवारा पशुओं की सींग पर नारंगी रंग की रेडियम की पट्टी लगाई जा रही है। माना जा रहा है कि इससे दुर्घटना में कमी आएगी।

गायों की वजह से आम तौर पर रात के वक्त सड़क हादसे होते हैं। गायों की सींग पर रेडियम की पट्टी लगाने से वाहन चालकों को उनके बारे में दूर से ही पता चल जाएगा। इससे वे सावधान हो सकेंगे और दुर्घटनाओं को रोका जा सकेगा।

इस रिपोर्ट में ट्रैफिक पुलिस इन्सपेक्टर कैलाश चौहान के हवाले से बताया गया हैः “सड़क पर खुले में घूम रहीं गायों की वजह से रात को दुर्घटनाएं होती रहती हैं, जिसमें कई वाहन चालक घायल हो जाते हैं, साथ ही पशुओं की भी मौत हो जाती है।”


चौहान कहते हैं कि रात में होने वाली इस तरह की दुर्घटनाओं को रोकने के लिए यह जरूरी था।

बताया गया है कि ट्रैफिक पुलिस की यह योजना सफल हो रही है। अधिकारी कहते हैं कि अब वे गायों के सींग के लिए स्थायी रेडियम पट्टी हासिल करने पर जोर देंगे, क्योंकि फिलहाल उपयोग में लाए जाने वाले प्लास्टिक बैंड कुछ ही सप्ताह के बाद बेकार हो जाते हैं।

यही नहीं, अधिकारियों ने किसानों से भी आग्रह किया है कि वे अपने पशुओं की सींग पर रेडियम की पट्टी लगाएं, ताकि दुर्घटनाओं से बचा जा सके।

आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष 2015 में गायों व अन्य पशुओं की वजह से होने वाली दुर्घटनाओं में भारत में करीब 550 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़े कहते हैं कि वर्ष 2013 में भारत में हुई सड़क दुर्घटनाओं में 2,31,000 लोगों ने अपने प्राण गंवा दिए।

Discussions



TY News