लंदन के इस ‘सिक्रेट’ घर में हैं विजय माल्या? सरकार रद्द कर सकती है पासपोर्ट!

2:15 pm 10 Mar, 2016

शराब कारोबारी और बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइन्स के प्रमोटर विजय माल्या के बारे में कहा जा रहा है कि वे लंदन स्थित अपने विशाल बंगले में हैं। हालांकि इस बात की अब तक पुष्टि नहीं हुई है। माल्या पर 17 सरकारी और प्राइवेट बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक लंदन के बाहर तिवेन गांव में विजय माल्या का बंगला है, और वह वहां देखे गए हैं। केन्द्र सरकार ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में जानकारी दी थी कि विजय माल्या पिछले 2 मार्च को ही भारत छोड़ चुके हैं। उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया गया था।

अब यह नोटिस ब्रिटेन को सुपुर्द किया जाएगा। हालांकि, इस रिपोर्ट के मुताबिक माना जा रहा है कि बिना सटीक डाक पते के ब्रिटेन में माल्या का घर खोजना मुश्किल है।

माल्या के लंदन चले जाने से सरकार भी सवालों के घेरे में आ गई है। सवाल उठ रहे हैं कि जिसके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी होता है, उसे एयरपोर्ट पर रोक लिया जाता है, लेकिन माल्या को जाने की इजाज़त कैसे दी गई।

इस बीच, राज्यसभा में विजय माल्या के देश छोड़ने के मामले को लेकर काफी हंगामा हुआ। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने आरोप लगाया कि सरकार ने विजय माल्या को देश से भागने में मदद की है। आजाद ने कहाः

”एक किमी दूर से नजर आने वाला लंबा-चौड़ा आदमी, परियों-हूरों के साथ चलने वाला माल्या सुई नहीं है जो गायब हो जाए। सरकार ने उसे भगाया।”

क्या माल्या ने रिश्वत देकर लिया बैंकों से कर्ज?

विमानन कंपनी के नाम पर हजारों करोड़ रुपए का कर्ज लेने वाले शराब कारोबारी विजय माल्या के अचानक देश छोड़कर लंदन चले जाने से कई सवाल उठ खड़े हुए हैं। यहां हम उन 6 महत्वपूर्ण सवालों से रूबरू हो रहे हैं, जो जनता जानना चाहती है।

1. लुक आउट नोटिस के बावजूद माल्या देश से कैसे चले गए?

सबसे बड़ा सवाल यह है कि लुक आउट नोटिस जारी होने के बावजूद विजय माल्या देश छोड़कर कैसे चले गए। जिस व्यक्ति के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी होता है, उसे एयरपोर्ट पर रोक लिया जाता है और उसे देश छोड़ने की इजाज़त नहीं होती है।

2. माल्या भागे हैं या भगाए गए?


दूसरा सवाल यह है कि माल्या देश छोड़कर खुद भागे हैं या भगाए गए हैं। विशेषज्ञ माल्या के लंदन जाने की तुलना ललित मोदी के देश छोड़ने से कर रहे हैं। ललित मोदी भी आईपीएल क्रिकेट घोटाले में फंसने के बाद देश छोड़कर निकल गए थे। आजकल वह लंदन में हैं।

3. क्या सरकार दिखावा कर रही है?

तीसरा सवाल यह है कि विजय माल्या मामले में क्या केन्द्र सरकार दिखावा कर रही है। एक दिन पहले ही अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि माल्या को देश छोड़ने से रोका जाए और अगले ही दिन उन्होंने कोर्ट को जानकारी दी कि माल्या देश छोड़कर भाग चुके हैं। ऐसे मौके पर सरकार को क्या करना चाहिए।

4. क्या माल्या ने बैंकों को रिश्वत देकर लोन लिया?

एक बड़ा यक्ष प्रश्न यह भी है कि क्या विजय माल्या ने रिश्वत देकर भारी कर्ज लिया था? दरअसल, सीबीआई सवाल उठा रही है कि जब विजय माल्या की कंपनी डूब रही थी तब एक बैंक ने उन्हें 800 करोड़ रुपए का कर्ज कैसे दे दिया? उसके लिए क्या आधार थे?

5. किस आधार पर बैंकों ने दे दिए 9 हजार करोड़ रु. के कर्ज?

आखिरी और सबसे बड़ा सवाल यह है कि विजय माल्या को 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज देने का आधार क्या था? इस कर्ज के लिए माल्या ने जो संपत्ति बैंकों में गिरवी रखी थी, वह लिए गए कर्ज का 15वां हिस्सा भी नहीं थी। इस आधार पर बैंकों की जिम्मेदारी भी तय होनी चाहिए।

6. क्या माल्या ने पहले ही भेज दिए 4 हजार करोड़ रुपए?

माना जा रहा है कि विजय माल्या ने अपने जाने से पहले 4 हजार करोड़ रुपए विदेश भेज दिए। पिछले साल जुलाई महीने में सीबीआई ने संबंधित देशों से इस संबंध में संपर्क किया था। सीबीआई का कहना है कि बार-बार गुज़ारिश के बावजूद बैंकों ने माल्या को फ्रॉड घोषित कर शिकायत दर्ज नहीं कराई। जांच एजेंसी ने अपनी पहल पर ही केस दर्ज किया।

Discussions



TY News