ये हैं महाराणा प्रताप के वंशज, वेटर के तौर पर की थी अपने करियर की शुरुआत

6:14 pm 26 Sep, 2016


शौर्य के परिचायक महाराणा प्रताप का वंशज होना बेहद गौरवशाली बात है। इसी वंशज से ताल्लुक रखते हैं मेवाड़ राजघराने के राजकुमार लक्ष्यराज सिंह।

लक्ष्यराज ने अपनी शुरुआती पढ़ाई उदयपुर महाराजा मेवाड़ स्कूल, अजमेर के मेयो कॉलेज और मुंबई के जीडी सोमानी स्कूल से पूरी की। बाद में उन्होंने ग्रेजुएशन की डिग्री ऑस्ट्रेलिया के ब्लू माउंटेन स्कूल से हासिल की।

लक्ष्यराज सिंह ने अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने करियर के शुरुआती दिनों में एक वेटर के तौर पर काम किया।

ऑस्ट्रेलिया से मैनेजमेंट की पढ़ाई कर चुके लक्ष्यराज वर्तमान समय में  एचआरएच ग्रुप ऑफ होटल्स के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर पद पर हैं। इस ग्रुप में उनके पिता अरविंद सिंह मेवाड़ संस्थापक के तौर पर कार्यरत हैं।


लक्ष्यराज उदयपुर क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष के पद पर भी नियुक्त हैं। उन्होंने क्रिकेट के मैदान पर भी अपना जलवा बिखेरा है। लक्ष्यराज ने मेयो की तरफ से यूरोप में क्रिकेट खेलते हुए वहां का एक 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा था।

लक्ष्यराज पेंटिंग करने के भी शौक़ीन हैं।

उदयपुर के बड़े घराने से ताल्लुक रखने वाले लक्ष्यराज का पेज थ्री पर भी छाए रहते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी अपने उदयपुर दौरे के दौरान मेवाड़ राजघराने के सभी सदस्यों से मुलाक़ात कर चुके हैं।

वर्ष 2013 में लक्ष्यराज की सगाई के मौके पर कई बड़ी हस्तियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी। कई राजघरानों से लेकर राजनैतिक हस्तियों और फ़िल्मी जगत से कई सितारों ने शिरकत की थी।

हाल ही में लक्ष्यराज को इंडिया एंड एक्स्प्लोर दी वर्ल्ड कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री द्वारा सम्मानित किया गया। लक्ष्यराज को यह सम्मान एचआरएच ग्रुप ऑफ होटल्स के डायरेक्टर के तौर पर बेस्ट हॉस्पिटेलिटी देने के लिए दिया गया।

Discussions