कपिल सिब्बल ने तीन तलाक को आस्था का मामला बताया, ट्वीटर पर लोगों ने लगाई सवालों की झड़ी

author image
6:21 pm 16 May, 2017

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) के वकील कपिल सिब्बल ने मुस्लिम समाज में व्याप्त तीन तलाक की कुरीति को आस्था का मामला करार दिया है।

सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक पर सुनवाई के दौरान सिब्बल ने तीन तलाक को मुसलमानों की आस्था का मामला बताया। साथ ही इसकी तुलना भगवान राम के अयोध्या में जन्म से कर डाली। सिब्बल ने कहा कि अगर हिन्दुओं की आस्था पर सवाल नहीं उठाए जा सकते तो फिर तीन तलाक पर सवाल क्यों? कपिल सिब्बल सामाजिक कुरीति के मामले को धर्म से जोड़कर अपनी बात रख रहे थे।

तीन तलाक मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जे एस खेहर के नेतृत्व में 5 जजों की बेन्च कर रही है।

सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट से दरख्वास्त की कि वह इस मामले में न पड़े।

यह खबर ज्योंहि ट्वीटर पर उछली, लोगों ने इसे लपक लिया।

Discussions



TY News