इस वजह से होते हैं जीन्स के पॉकेट पर छोटे रिपीट बटन

7:39 pm 22 Apr, 2016


आप जीन्स तो पहनते ही होंगे। लेकिन आपने कभी सोचा है कि जीन्स पैन्ट के पॉकेट्स के ऊपर बेहद छोटे-छोटे रिपीट बटन क्यों लगाए जाते हैं?

आपको संभवतः अंदाजा भी नहीं होगा और इसे छोटी सी बात समझकर नजरअंदाज कर देते होंगे।

लेकिन इन छोटे बटन्स की मौजूदगी का एक विशेष कारण है।

यह बताने से पहले आपको इतिहास की तरफ ले चलते हैं। अमेरिका में जीन्स को शुरूआती दिनों में मजदूरों का पहनावा माना जाता था। शारीरिक श्रम करने वाले लोगों में यह बेहद लोकप्रिय था। उन दिनों जिन्स के पॉकेट फटने या सिलाई खुल जाने की समस्या आम थी।

उन्हीं दिनों जैकब डेविस नामक एक दर्जी के मन में यह विचार आया कि जीन्स के पॉकेट को फटने से रोका जा सकता है। जैकब जीन्स निर्माता कंपनी लेवी स्ट्रॉस एंड कंपनी के ग्राहक थे।

वर्ष 1870 में जैकब ने वह तरीका खोज निकाला जिससे जीन्स के पॉकेट को फटने से रोका जा सकता था।

जैकब अपनी इस खोज का पेटेन्ट करवाना चाहते थे, लेकिन उनके पास ऐसा करने के लिए पैसे नहीं थे। बाध्य होकर उन्होंने वर्ष 1872 में लेवी स्ट्रॉस के साथ एक डील कर ली कि कंपनी पेटेन्ट के पैसे भरेगी। बाद में 20 मई 1873 में इसका पेटेन्ट हो गया।


तब से लेकर अब तक इन छोटे बटन्स का जीन्स के पॉकेट पर धड़ल्ले से इस्तेमाल होता रहा है।

जी हां, अगर आपको लग रहा होगा कि जीन्स में पॉकेट के भीतर छोटा पॉकेट क्यों होता है तो आप इसके बारे में यहां पढ़ सकते हैं।

Discussions



TY News