किसानों की मदद के लिए आगे आया ISRO, गोद लेगा गांव

8:53 pm 19 Nov, 2016


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने अपने कई विशेष बड़े अभियानों से देश को कई बार गौरवान्वित किया है। इस बार भी ISRO अपने एक विशेष अभियान में उतरा है, जो वाकई काबिलेतारीफ है।

ISRO की मार्केटिंग शाखा एंट्रिक्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने कर्नाटक में तमकुर जिले के सिरा तालुका में स्थित सूखे की मार झेल रहे ब्रह्मसांदरा गांव को गोद लेने का फैसला लिया है। ISRO का इस गांव को गोद लेने का उद्देश्य, यहां सूखे की मार झेल रहे किसान परिवारों की मदद कर, उनके जीवन की गुणवत्ता में सुधार करना है।

farmer

thehansindia

यह पहल एंट्रिक्स ने कॉरपोरेट की सामाजिक जिम्मेदारी (CSR) के अन्तर्गत की है। कंपनी इस विशेष परियोजना को अमल लाने के मकसद से भारतीय कृषि उद्योग फाउंडेशन (BAIF) के साथ मिलकर इस परियोजना पर काम करेगी। इस परियोजना के लिए 3.81 करोड़ का बजट पांच साल की अवधि के लिए निर्धारित किया गया है।

कर्नाटक के लघु सिंचाई, कानून और संसदीय मामलों के मंत्री टीबी जयचंद्र ने ब्रह्मसांदरा गांव के चुने जाने पर अंग्रेजी समाचार-पत्र द हिन्दू से बातचीत करते हुए कहा- “इस गांव का परियोजना के लिए चुनाव इसलिए किया गया, क्योंकि पिछले दो साल से इस गांव में किसानों की आत्महत्या की संख्या सबसे ज्यादा दर्ज की गई है।”

1,420 की कुल आबादी वाले इस गांव के 356 परिवार का आय स्रोत मुख्य तौर पर कृषि ही है। इस परियोजना के तहत स्मार्ट गांव का निर्माण कर, खेती के आधुनिक तरीकों को अपनाते हुए खेती को लाभदायक व्यवसाय बनाने की दिशा में कार्य किया जाएगा। साथ ही गांव विकास समिति गठित की जाएगी, ताकि परियोजना की पांच साल की अवधि के बाद भी गांव के विकास का कार्य जारी रहे।

Discussions