लखनऊ में बन रहा है देश का सबसे लंबा साइकिल ट्रैक, आगरा से इटावा साइकिल हाईवे

author image
12:36 pm 24 May, 2016


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का साइकिल प्रेम किसी से छुपा नहीं है। अब अखिलेश की सरकार ताजनगरी आगरा से इटावा तक साइकिल हाईवे बनाने की योजना पर काम कर रही है।

ताज महल से शुरू होने वाला यह सुरक्षित साइकिल हाईवे इटावा के लायन सफारी को जोड़ने का काम करेगा।

पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने संवाददाताओं को इस बात जानकारी देते हुए कहा था कि यह हाईवे साइकिल सवारों के लिए सुरक्षित होगा और वे आसानी से साइकिल चलाते हुए आगरा से इटावा तक की दूरी तय कर सकते हैं।

यही नहीं, उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों में कम से कम 200 किलोमीटर का साइकिल ट्रैक बनवाने का लक्ष्य रखा गया है। इस साल के अंत में काम पूरा होने पर लखनऊ में 270 किलोमीटर का साइकिल ट्रैक बनकर तैयार हो जाएगा।

यहां अब तक करीब 100 किलोमीटर का ट्रैक बनकर तैयार है और लोग उसमें साइकिल चला रहे हैं। इसी तरह के ट्रैक्स नोएडा और ग्रेटर नोएडा में भी तैयार किए जाने की योजना है।

मुख्यमंत्री अखिलेश ने पिछले साल फ्रान्स, जर्मनी और नीदरलैन्ड की यात्रा की थी। इन देशों में साइकिलों की संख्या नागरिकों से कहीं अधिक है।

इन देशों की यात्रा करने का उद्देश्य यहां के साइकिल सिस्टम को समझना था, ताकि उसे उत्तर प्रदेश में भी लागू किया जा सके।

greatgasbeetle

greatgasbeetle


वर्ष 2015 के आंकड़ों के मुताबिक, लखनऊ शहर में 17 लाख से अधिक पंजीकृत वाहन हैं। इनमें प्रतिवर्ष 10 फीसदी के हिसाब से बढ़ोत्तरी होती है।

अधिकारी मानते हैं कि सरकार की इस पहल से लोगों को एक स्वस्थ जीवन जीने की प्रेरणा मिल सकेगी। वायु प्रदूषण के मामले में लखनऊ की हालत बुरी दिख रही है, और यह दिल्ली से कम ही पीछे है।

लखनऊ के अलावा, आगरा, नोएडा सहित कई अन्य शहरों में भी साइकिल ट्रैक बनवाए गए हैं और कई शहरों में निर्माण चल रहा है।

पिछले दिनों मुख्यमंत्री अपने आवास के बाहर साइकिल चलाते हुए नजर आए थे। उनके साथ कुछ स्कूली बच्चे भी थे।

मुख्यमंत्री ने साइकिल चलाते हुए बच्चों से पूछा: “बताओ इससे क्या फायदा है।” बच्चे बोले: “इससे पर्यावरण सुरक्षित रहता है। स्वास्थ्य सही रहता है और साइकिल चलाने में मजा आता है।”

हालांकि, चलते-चलते मुख्यमंत्री सियासी संदेश भी दे गए। साइकिल पर चढ़कर बैलेन्स बनाते हुए बोले, जो साइकिल पर संतुलन बना लेता है, वह जिन्दगी में भी संतुलन बना लेता है।

Popular on the Web

Discussions