खुशी के मामले में भारतीयों से आगे हैं पाकिस्तानी, नार्वे सबसे खुश देश

author image
5:01 pm 21 Mar, 2017

खुशी के मामले में पाकिस्तानी हम भारतीयों से कहीं आगे हैं। जी हां, संयुक्त राष्ट्र की वर्ल्ड हैप्पिनेस रिपोर्ट 2017 कुछ यही कहती है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि नार्वे दुनिया का सबसे खुश देश है। इसने तीन पायदान की छलांग लगाई है।

पिछले साल नार्वे खुशहाल देशों की सूची में चौथे स्थान पर था। वहीं, डेनमार्क पहले स्थान पर था। इस सूची में 155 देशों को रखा गया है। इसमें चीन 79वें, पाकिस्तान 80वें और भारत 122वें नंबर पर है।

इसका साफ मतलब है कि संयुक्त राष्ट्र भी मानता है कि खुशी के मामले में भारतीयों से पाकिस्तानी कहीं अधिक आगे हैं। भारत पिछले साल 118वें नंबर था और चार पायदान फिसला है।


इस रिपोर्ट को तैयार करने वाले जैफरी एस. कहते हैंः

“खुश देश वो हैं जहां खुशहाली, समाज में आपसी भरोसा, लोगों के बीच बराबरी और सरकार पर भरोसा अधिक है। साथ ही इन सबके बीच बेहतर संतुलन भी।”

खुशहाली के सूचकांक के मूलतः छह पैमाने रहे। प्रति व्यक्ति जीडीपी, बेहतर लाइफ एक्सपेंटेंसी, स्वतंत्रता, सामाजिक सदभाव, उदारता और सरकार या व्यवसाय में कम भ्रष्टाचार इस रिपोर्ट के मुख्य आधार रहे।

रिपोर्ट के मुताबिक, भारत के अलावा चीन एक ऐसा देश रहा है जहां लोग पहले के मुकाबले कम खुश हैं। वर्ष 1990 से वर्ष 2005 के बीच चीन के लोगों में खुशी के स्तर में लगातार कमी देखने को मीली है।

Discussions



TY News