सरकार का बड़ा ऐलानः अब बैंक से नए नोट लेने वाले हर शख्स की होगी पहचान, लगेगी उंगली में स्याही

2:48 pm 15 Nov, 2016


नोटबंदी के बाद से बैंकों में अफरातफरी के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कई बार तो घंटों तक लाइन में लगे रहने के बावजूद बैंक में कैश ख़त्म होने के कारण पैसा नहीं मिल पाता। कई लोग ऐसे हैं, जो बार-बार पैसे बदलवाने आ रहे हैं। और इस वजह से नए लोगों को नोट नहीं मिल पा रहे हैं।

ऐसे में बार-बार पैसा बदलवाने आ रहे लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए अब 500 और 1000 के नोट को बदलने वालों की उंगली पर स्याही लगाई जाएगी। यह निशान ठीक वैसा ही होगा जैसा वोट देने पर लगता है।

आर्थिक मामलों के विभाग के सचिव शक्तिकांत दास ने जानकारी देते हुए बताया कि इसकी शुरुआत कई बड़े शहरों के बैंकों में 15 नवम्बर से शुरू हो गई है।

शक्तिकांत दास ने मीडिया से बातचीत में कहा:

“बैंकों और एटीएम के आगे लगी लंबी लाइनों की जांच में पाया गया है कि कुछ लोग बार-बार पैसे बदलने आ रहे हैं। यह भी रिपोर्ट मिली है कि कई लोगों ने अपने कालेधन को सफेद में बदलने के लिए कुछ लोगों से सांठ-गांठ की और उन्हें पैसे बदलने के लिए कई-कई बार बैंक भेजा जा रहा है।”

ऐसे मामलों पर नकेल कसने के लिए  पैसा निकालने पर मतदान की तरह उंगली पर स्याही लगाई जाने का फैसला लिया गया है।

साथ ही बैंकों में नए नोटों की किल्लत को लेकर शक्तिकांत दास ने कहा कि लोगों को बिलकुल भी घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि बैंक में नकद की कमी नहीं है।

Discussions